बसपा सुप्रीमो मायावती ने बिलासपुर में एक जनसभा को संबोधित करने के दौरान कहा कि जो सम्मान कांग्रेस ने अजीत जोगी को नहीं दिया, वो सम्मान हम देंगे. गौरतलब है कि बीते दिनों ये अटकलें लगाई जा रही थी कि मायावती कांग्रेस के साथ गठबंधन कर सकती हैं, लेकिन मायावती ने तमाम अटकलों को खारिज करते हुए छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस से गठबंधन करके कांग्रेस को असमंजस में डाल दिया था. इसके साथ ही चर्चा के बाजार को गर्म कर दिया था.

मालूम हो कि पांच राज्यों के इस चुनाव को आने वाले 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए सेमीफाइनल के तौर पर देखा जा रहा है. इसके साथ ही चुनाव का बिगुल अभी फूंका भी नहीं गया कि कांग्रेस को बड़ा झटका देते हुए छत्तीगढ़ के कार्यकारी अध्यक्ष ने कांग्रेस का हाथ छो़ड़कर बीजेपी का दामन थाम लिया.

बता दें कि बसपा प्रमुख प्रेसवार्ता करके ये जानकारी मीडिया के साथ साझा की थीं कि वे मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ का चुनाव कांग्रेस के साथ नहीं लड़ेंगी. वे विधानसभा का ये चुनाव छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी की पार्टी छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस के साथ गठबंधन करके लड़ेगी. बसपा प्रमुख के इस ऐलान के बाद सियासी गलियारों में इसके अनेकों मायने निकाले जाने लगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here