नई दिल्ली: हाल ही में पाकिस्तान सरकार में मंत्री फवाद चौधरी ने कहा था कि इमरान खान भारत के लिए एयरस्पेस बंद करने पर विचार कर रहा है. लेकिन अब पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने इससे उलट बयान दिया है. पाकिस्तान भारत के खिलाफ एक्शन लेने की धमकी लगातार दे रहा है, लेकिन जब वह खुद अपनी बात पर विचार करता है तो उसे सच्चाई का पता चल रहा है.

हाल ही में पाकिस्तान सरकार में मंत्री फवाद चौधरी ने कहा था कि इमरान खान भारत के लिए एयरस्पेस बंद करने पर विचार कर रहा है. लेकिन अब पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने इससे उलट बयान दिया है. शाह महमूद कुरैशी का कहना है कि अभी ऐसा फैसला नहीं लिया गया है और इससे जुड़ी अभी तक की सभी खबरों को काल्पनिक बताया है.

गुरुवार को पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने स्पष्ट किया है कि अभी तक देश के हवाई क्षेत्र को भारत के लिए बंद करने पर कोई निर्णय नहीं लिया गया है. पाकिस्तान के डॉन समाचार के मुताबिक नेशनल डेटाबेस एंड रजिस्ट्रेशन अथॉरिटी (नाड्रा) के दौरे पर शाह महमूद कुरैशी ने पत्रकारों से बात करते हुए इस मुद्दे के सभी रिपोर्टों को ‘काल्पनिक’ बताकर खारिज कर दिया.

पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने कहा कि उचित विचार करने और परामर्श के बाद प्रत्येक स्वरूप और हर पहलू को देखने के बाद इस मुद्दे पर निर्णय लिया जाएगा. हालांकि, साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि प्रधानमंत्री इमरान खान का निर्णय अंतिम निर्णय होगा. दरअसल, एक दिन पहले ही पाकिस्तान के विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री फवाद चौधरी ने एक ट्वीट किया था जिसमें उन्होंने लिखा था कि इमरान खान भारत से यातायात के लिए अपने हवाई क्षेत्र को ‘पूरी तरह से बंद’ करने पर विचार कर रहे हैं.

लेकिन अब एक ही दिन के बाद पाकिस्तान अपनी बातों से पलटता दिख रहा है. फवाद चौधरी के ट्वीट के बाद कराची एयरस्पेस के तीन रूट बंद किए गए थे, जिसके बाद अटकलें लगातार तेज हो रही थीं. फवाद चौधरी ने मंगलवार को ट्वीट किया था, “कैबिनेट की बैठक में भारत-अफगानिस्तान में व्यापार के लिए पाकिस्तान के भू-मार्गों के उपयोग पर पूर्ण प्रतिबंध का सुझाव दिया गया था.”