पटना के सिन्हा लाइब्रेरी प्रांगण में चेतना समिति द्वारा 65वें विद्यापति पर्व समारोह का आयोजन हुआ, जिसे मुख्यामंत्री नीतीश कुमार ने संबोधित किया. नीतीश कुमार ने कहा कि विद्यापति सिर्फ एक महान कवि ही नहीं थे, बल्कि समाज सुधारक भी थे. वे बहु विवाह, बाल विवाह और नशा के खिलाफ समाज में काम करते थे. 600 साल पहले अपने कविताओं के माध्यम से वह लोगों को जागरूक करते थे. शराबबंदी करके हमने विद्यापति के काम को ही आगे बढ़ाया है. नीतीश ने कहा कि राज्य सरकार विद्यापति के इस विचार को प्रचारित करेगी, ताकि आज की पीढ़ी भी इससे प्रेरणा लेगी.

विद्यापति के विचारों पर शोध होगा

मुख्यमंत्री ने कहा कि चेतना समिति विद्यापति के समाज सुधार कार्य पर शोध करे और इसकी विस्तृत जानकारी हमें दे. इसके लिए पैसे की जरूरत होगी तो सरकार पैसे की कमी नहीं होने देगी. उनके समाज सुधार के कार्यों को न केवल मिथिलांचल, बल्कि राज्य के सभी स्कूलों में प्रचारित किया जाएगा. मेरी सरकार लगातार मिथिलांचल के विकास के लिए काम कर रही है.

सौराठ में खुलेगा मिथिला पेटिंग इंस्टीट्यूट

मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार की मिथिला पेंटिंग की पहचान देश-दुनिया में बन गई है. हमलोगों का इससे गहरा लगाव है. मधुबनी के सौराठ सभा में मिथिला पेंटिंग इंस्टीट्यूट की स्थापना कर रही है. जनवरी 2019 में इस इंस्टीट्यूट के बिल्डिंग का निर्माण कार्य और किराए के मकान में कोर्स भी शुरू हो जाएगा. पटना एयरपोर्ट टर्मिनल के नए भवन के आंतरिक साज सज्जा मिथिला पेटिंग से सजा होगा, जबकि उसका ऊपरी भाग नालंदा के खंडहर जैसा दिखेगा. मुख्यमंत्री ने कहा कि जल्द ही इस टर्मिनल का शिलान्यास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे.

कोसी नदी पर सेतु निर्माण

इस अवसर पर पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव ने कहा कि मिथिलांचल में एनडीए सरकार एक साथ चार सेतु का निर्माण करवाने जा रही है. इसमें बिरोल गंडौल के पास कोसी नदी पर सेतु का मार्च 2018 तक उद्घाटन हो जाएगा. वर्तमान सरकार न मधुबनी के उच्चैठ भगवती स्थान से उग्रतारा स्थान महिषी तक सड़क बनाने का निर्णय लिया है. इसमें भेजा के पास कोसी नदी पर सेतु निर्माण किया जाएगा, जिससे कोसी नदी पर दो और पुल बनेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here