नई दिल्ली: एग्जिट पोल में NDA की बल्ले-बल्ले के बाद राजग खेमे में खुशी और जश्न का माहौल है। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने मंगलवार रात राजग के शीर्ष नेताओं का रात्रिभोज आयोजित किया है। इसमें भावी रणनीति पर विचार होगा। डिनर से पहले भाजपा मुख्यालय में पार्टी के प्रमुख नेताओं की बैठक होगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दोनों आयोजनों में मौजूद रहने की संभावना है। एनडीए नेताओं की बैठक शाम 7 बजे दिल्ली के होटल अशोका में शुरु होगी जिसके बाद अमित शाह एनडीए नेताओं को डिनर देंगे। डिनर के लिए एनडीए के 29 नेताओं को बुलाया गया है।

दोनों ही कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बिहार के मुख्यमंत्री और जेडीयू अध्यक्ष नीतीश कुमार, शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे और लोक जन शक्ति पार्टी के नेता रामविलास पासवान समेत अन्य नेता हिस्सा लेंगे। बैठक में आगे की रणनीति तय की जाएगी। विपक्ष की सक्रियता को देखते हुए भाजपा ने भी एनडीए का कुनबा बढ़ाने की कोशिशें शुरू कर दी हैं। बताया जा रहा है कि इसकी बानगी एनडीए की बैठक में शामिल मेहमानों की लिस्ट में देखने को मिल सकता है।
पार्टी अध्यक्ष अमित शाह एनडीए की मेहमानों की सूची से सबको चौंका सकते हैं। पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि एनडीए में उन दलों को शामिल करने की कोशिशें चल रही हैं जो अब तक न एडीए में हैं और ना ही यूपीए में शामिल हैं। बताया जा रहा कि रविवार को अमित शाह ने रविवार को ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से बात की। दोनों नेताओं के बीच यह बातचीत करीब 20 मिनट चली।
लगभग सभी एग्जिट पोल में पीएम नरेंद्र मोदी के फिर एक बार सत्ता में वापसी करने के संकेत दिए गए हैं। सोमवार को कई भाजपा नेताओं ने उम्मीद जताई कि पार्टी को अपने दम पर फिर बहुमत मिलेगा।