Alliance

नई दिल्ली (ब्यूरो, चौथी दुनिया)। पिछले कई दिनों से उत्तर प्रदेश में कांग्रेस और सपा के गठबंधन पर से पर्दा उठ गया। प्रशांत किशोर की कोशिशों के बाद सपा और कांग्रेस के बीच सीटों के बंटवारे पर अंतिम मुहर लग गई। नए समीकरण के मुताबिक कांग्रेस के पास 105 सीटें और सपा के पास 298 सीटें रहेंगी।

शनिवार रात तक इस गठबंधंन पर अंतिम फैसला नहीं हो पाया था। लेकिन बताया जा रहा है कि प्रियंका गांधी ने खुद आगे आकर प्रशांत किशोर के साथ मिलकर दोनो खेमों से बात की। फिर कांग्रेस के कुछ सीनियर नेताओं ने भी दिलचस्पी दिखाई। तब जाकर अंतिम फैसला आ पाया।

आरक्षण के बयान पर मायावती का वार,कहा-बीजेपी को दिन में तारे दिखा देंगे

अखिलेश ने कांग्रेस के सामने अपनी मजबूरी जाहिर करते हुए कहा कि मुलायम सिंह यादव की 38 लोगों को भी पार्टी के नए समीकरण में फिट बिठाना है। उस वक्त कांग्रेस 110 सीटों पर मान गई लेकिन अखिलेश ने दूसरी मजबूरियां गिनाते हुए गठबंधंन से इनकार कर दिया। आखिर में कांग्रेस 105 पर मान गई और गठबंधंन फाइनल हो गया।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here