भारत के जाने माने योग – आध्यात्मिक गुरु और निरंजनी अखाड़ा के श्रीमहंत और योगगुरु आनंद गिरि को ऑस्ट्रेलिया में गिरफ्तार कर लिया गया है। ऑस्ट्रेलिया पुलिस ने उन्हें सिडनी शहर में गिरफ्तार किया है। योगगुरु आनंद गिरि पर दो महिलाओं ने अभद्रता की शिकायत दर्ज कराइ थी, जिसके बाद उन्हें गिरफतार कर जेल भेज दिया गया। आनंद गिरि पर महिलाओं पर हमला और मारपीट का भी आरोप था। प्रयागराज में कुंभ मेला के समापन के बाद आनंद गिरि 6 सप्ताह के लिए विदेश यात्रा पर गए हुए थे। आध्यात्मिक और योग सेमिनार के लिए 38 वर्षीय आनंद गिरि ऑस्ट्रेलिया पहुंचे थे और एक महिला की सूचना पर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार रात 12।35 बजे उन्हें गिरफ्तार किया गया।

आनंद गिरि के खिलाफ साल 2016 और 2018 में दो मामले दर्ज कराए गए थे जिनके आधार पर पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार किया है। गिरफ्तारी के बाद आनंदगिरि को सिडनी कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने महिलाओं की सुरक्षा का हवाला देते हुए आनंदगिरि को जमानत देने से इनकार कर दिया।

साल 2016 में एक 29 वर्षीय महिला ने आनंद गिरि पर बेडरूम में अभद्रता करने के आरोप लगाए थे। आनंद गिरि यहां पूजा कराने के लिए पहुंचे थे। महिला ने आरोप लगाया था कि आनंद गिरि ने उनके साथ मारपीट भी की। एक अन्य मामला 2018 में सामने आया जब उन पर लाउंज में एक महिला से बदसलूकी करने के आरोप लगे। कोर्ट में इस मामले की अगली सुनवाई 26 जून को होगी। आनंद गिरि पर लगे आरोपों को उनके अनुयायियों ने निराधार बताया है।