सोमवार शाम को मासिक पूजा के लिए सबरीमाला मंदिर का कपाट खोला जाएगा. किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना न घटे इसको ध्यान में रखते हुए सरकार ने भारी संख्या में पुलिसकर्मियों को तैनात किया है. पुलिस महानिदेशक के मुताबिक 2500 पुलिसकर्मियों को सबरीमाला परिसर पर तैनात किया गया है.

हांलाकि, रविवार सुबह ही कुछ श्रद्धालु भगवान अयप्पा के दर्शन के लिए पहुंचे थें, लेकिन उन्हें जब इस बात का पता लगा कि पूजा सोमवार को शाम 5 बजे है तो खिन्न नजर आए और उन्होंने इस बात को लेकर विरोध जताया.

इसके साथ ही हिंदू संगठनों ने मीडिया के संपादकों को कहा है कि वे इस न्यूज को कवर करने के लिए महिला पत्रकारों को भेजे. हालांकि प्रशासन ने पत्रकारों को सुरक्षा मुहैया करवाने के लिए विशेष पुलिसकर्मियों को वहां पर तैनात किया है.

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने मासिक आयु वाली महिलाओं को सबरिमाला मंदिर में जाने पर लगे रोक को हटा दिया है, जिसको ध्यान में रखते हुए जब मासिक आयु वाली महिलाओं ने  मंदिर में प्रवेश किया तो हिंदू संगठनों ने विरोध जताया था. जिसके कारण प्रदेश में भारी बवाल देखने को मिला था. इतना ही नहीं ये बवाल की इस कदर बढ़ गया था कि मीडियकर्मियों के साथ भी मारपीट की गई थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here