ग्रेटर नोएडा पुलिस ने सेल्स मैनजर रूपेंद्र सिंह चंदेल के क़त्ल की गुत्थी सुलझा ली है। पुलिस ने इस मामले में रूपेंद्र की पत्नी को ही इस मामले में गिरफ्तार किया है। आरोप है की पत्नी ने ही अपने अपमान का बदला लेने के लिए क़त्ल की पूरी साज़िश रही थी। रूपेंद्र सिंह चंदेल की हत्या के आरोप में उनकी पत्नी अमृता चंदेल को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। बिसरख कोतवाली पुलिस ने अमृता चंदेल को गौड़ सिटी-2 स्थित उसके फ्लैट से गिरफ्तार किया है। पुलिस ने उसे कोर्ट में पेश किया। कोर्ट ने आरोपी को जेल भेज दिया। अमृता पर अपने प्रेमी को तीन लाख की सुपारी देकर पति की हत्या कराने का आरोप है।

मामले का खुलासा करते हुए डीएसपी राजीव कुमार ने बताया कि, 28 अप्रैल को सेल्स मैनेजर रूपेंद्र सिंह चंदेल का शव उनकी कार में पड़ा मिला था। उनकी गोली मारकर हत्या की गई थी। पुलिस के पास इस क़त्ल को सुलझाने के लिए कोई सुराग नहीं था। जब पुलिस ने पत्नी का बैकग्राउंड चेक किया तो सारी हक़ीक़त सामने आ गई। ने जांच की तो पता चला कि रूपेंद्र की हत्या उसकी पत्नी अमृता चंदेल ने अपनी प्रेमी ओमवीर को तीन लाख की सुपारी देकर करवाई थी।

पूछताछ में अमृता चंदेल ने बताया की उसे पति रूपेंद्र से तलाक चाहिए थे, लेकिन वो राज़ी नहीं था। वह रुपेन्द्र को तलाक़ देकर अपने प्रेमी ओमवीर के साथ रहना चाहती थी, जिसके चलते उसने पति की हत्या करवाई थी। पुलिस ने इस मामले में आरोपी प्रेमी ओमवीर और उसके दो साथी सुमित और भूले को गिरफ्तार किया था। जबकि रूपेंद्र की पत्नी अमृता चंदेल फरार चल रही थी।

थप्पड़ के बाद बनाया प्लान

आरोपी पत्नी अमृता चंदेल ने एक थप्पड़ का बदला लेने के लिए पति रूपेंद्र की हत्या की साजिश रची थी। प्रेमी ओमवीर के साथ रहने के लिए अमृता अक्सर रूपेंद्र से झगड़ा करती थी। जिसके चलते अमृता ने रूपेंद्र से तलाक देने के लिए भी कहा था। होली के दिन अमृता और रूपेंद्र के बीच झगड़ा हुआ था। इस बीच रूपेद्र ने अमृता को एक थप्पड़ मार दिया था। जिसका बदला लेने के लिए अमृता ने उस दिन से रूपेंद्र की हत्या करवाने साजिश रचनी शुरू की। इसके लिए उसने ओमवीर के साथ मिलकर योजना तैयार की।