haj-house-saffron

योगी सरकार आते ही उत्तर प्रदेश राज्य की राजधानी के सचिवालय को केसरिया रंग में रंगने के बाद अब लखनऊ स्थित हज हाउस की दीवारों को भी भगवा रंग चढ़ा दिया गया है. ऐसे में सहारनपुर के उलेमाओं ने इसका विरोध किया है. उलेमाओं ने योगी सरकार से अपील करते हुएकहा कि हज हाउस का भगवाकरण ना करे.

इतना ही नही हज हाउस की दीवारों पर भगवा रंग चढ़ने के बाद इसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं. हो सकता है हज हाउस के भगवाकरण की वजह से आगे चल कर सरकार को इसका खामियाजा भुगतना पड़े.

खबर के मुताबिक, अल्पसंख्यक कल्याण बोर्ड की तरफ से हज हाउस में भगवा पेंट कराया गया है. इससे पहले हज हाउस की दीवारों पर सफेद और हरा रंग था.

ये भी पढ़ें: मुंबई आग: हुक्के की चिंगारी बनी थी पब में लगी भीषण आग की वजह

बता दें कि जब से योगी सरकार बनी है तब से राज्य में विकास हुआ है कि नही इसका अंदाजा लगाना मुश्किल हो जाएगा लेकिन योगी का पसंदीदा भगवा रंग सरकारी भवनों पर देखने जो जरुर दिख रहा है. इतना ही नही भगवाकरण इतना सर चढ़ गया है कि इसका असर अब राज्य के थाने की बिल्डिंग पर भी दिख रहा है.

यहां तक की सरकारी पोस्टर में भी भगवा रंग का प्रयोग देखने को मिल रहा है. योगी सरकार के आने के बाद भगवा बसों का भी संचालन शुरू किया गया है. गोरक्षनाथ मंदिर के महंत होने के नाते मुख्यमंत्री खुद भगवा कपड़ों में नजर आते हैं.

यही नहीं कुछ दिन पहले खबर आ रही थी कि ट्रेन के डब्बों का रंग केसरिया कर देना चाहिए. ऐसा करने का सूझाव केंद्रीय रेलवे ने दिया था. जी हां, केंद्रीय रेलवे ने मुंबई की ट्रेनों में महिलाओं की सुरक्षा को बढ़ाने के लिए छह नए उपाय सुझाए हैं, जिनमें कंपार्टमेंट के डिब्बों का रंग बदलना भी शामिल है. उनका कहना है कि महिलाओं की सुरक्षा के लिए ट्रेन के डब्बे को भी भगवाकरण कर देना चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here