supreme court

नई दिल्ली : एक विशेष सुनवाई के दौरान सीजेआई जेएस खेहर ने कांग्रेस से पूछा कि गोवा में सरकार बनाने के लिए आप पहले गवर्नर के पास क्यों नहीं पहुंचे? सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस से पूछा कि क्या आपने अपने विधायकों की लिस्ट गवर्नर को सौंपी थी? आपके नंबर कहां हैं? अगर आप अपने विधायकों के साथ गवर्नर के पास पहले जाते और फिर यहां आते तो हमारे लिए फैसला लेना आसान होता.

यह कह सुप्रीम कोर्ट ने पर्रिकर के शपथ ग्रहण समारोह पर रोक लगाने से इंकार कर दिया है. मनोहर पर्रिकर को गोवा का सीएम नियुक्त किए जाने के खिलाफ मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई.    पिटीशन में मांग की गई थी शपथ ग्रहण समारोह पर रोक लगाई जाए. कोर्ट ने पिटीशन खारिज कर दी है. कांग्रेस की तरफ से अभिषेक मनु सिंघवी दलील दे रहे थे. वहीं, सरकार का पक्ष वकील हरीश साल्वे ने रखा.

हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने सदन में फ्लोर टेस्ट 16 मार्च को कराने के लिए कहा है. भाजपा की तरफ से सरकार बनाने का दावा पेश किए जाने के बाद गवर्नर मृदुला सिन्हा ने पहले भाजपा को सरकार बनाने के लिए निमंत्रण दिया था. हालांकि उन्होंने बहुमत साबित करने के लिए 15 दिन का समय दिया था. इसके बाद कांग्रेस ने अपने 17 विधायकों के साथ गवर्नर से मुलाकात किया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here