पणजी: गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल पर्रिकर ने शनिवार को कहा कि उनके पिता के बारे में बुरा कहना ‘चलन’ बन गया है और उनकी विचारधारा को लेकर हवा में बातें कही जा रही हैं. उत्पल गोवा सुरक्षा मंच के संस्थापक सुभाष वेलिन्गकर उस बयान पर प्रतिक्रिया दे रहे थे कि पर्रिकर ‘भद्र पुरुष’ तो थे लेकिन “राजनीतिक व्यक्ति” नहीं थे.

उत्पल ने कहा, “मैं इसपर (वेलिन्गकर के बयान पर) टिप्पणी करने का इच्छुक नहीं हूं. अब उनके (पर्रिकर के बारे में) बुरी बातें कहना चलन बन गया है. उनकी विचारधारा को लेकर हवा में बातें की जा रही है.” उन्होंने कहा, “मैं कैसा व्यक्ति हूं. मैं नहीं समझता कि किसी को यह निर्णय लेने का अधिकार है कि मैं कैसा व्यक्ति हूं. सिर्फ मेरा काम ही यह तय करेगा.”

गोवा आरएसएस के पूर्व प्रमुख वेलिन्कर को मनोहर पर्रिकर का कटु आलोचक माना जाता है. पर्रिकर का 17 मार्च को लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया था. पर्रिकर लंबे वक्त से कैंसर की बीमारी से जूझ रहे थे.