जी हां अब अगर आप भी पीएम मोदी के उपहारों का दीदार करने को उत्सुक है तो आपके लिए एक अच्छी खबर है. बता दें कि दिल्ली स्तिथ नेशनल गैलरी ऑफ मॉडर्न आर्ट (एनजीएमए) में प्रधानमंत्री को मिले 2000 से अधिक उपहारों की प्रदर्शनी लगाई गई है. प्रदर्शनी का उद्घाटन मंगलवार को किया गया, जो 31 अक्टूबर तक चलेगी. इसमें प्रधानमंत्री को देश-विदेश में विभिन्न मौकों पर मिलीं पगड़ियां, शॉल, जैकेट, धातु व लकड़ी के उपहार, मूर्तियां, पेंटिंग, वाद्य यंत्र समेत अन्य वस्तुएं शामिल हैं.

इस प्रदर्शनी में पीएम को मिली सिर्फ खास ही नहीं बल्कि आम लोगो की दी हुई वस्तुएं भी शामिल है. प्रदर्शनी में मोदी जी के 2014 में पीएम बनने से अब तक के सारे उपहार शामिल किए गए है, क्योंकि मोदी जी जहां भी गए वहां पर ही उन्हें बहुत स्नेह मिला और इनमें से कुछ पेंटिंग और उपहार तो बहुत ही ज्यादा आकर्षक है.

खास है मधुबनी पेंटिंग

एक पेंटिंग में मोदी ध्यानमग्न हैं तो दूसरे में महात्मा गांधी के साथ हैं. एक पेंटिंग रेलवे स्टेशन की भी है, जहां से वह आम लोगों के साथ गुजर रहे हैं. पेंटिंग कलेक्शन में मधुबनी पेंटिंग ने भी अपनी उपस्थिति दर्ज कराई है जो सबसे खास है. महात्मा बुद्ध, सरदार पटेल, विवेकानंद व महात्मा गांधी की आकर्षक मूर्तियां भी हैं. अशोक स्तंभ, गाय-बछड़ा, रथ पर सवार गीता का उपदेश देते कृष्ण की भी मूर्तियां हैं. इसी तरह ढोलक, गदा, तीर कमान के साथ अन्य उपहार हैं.

पहनावे का है अच्छा संग्रह
जैसा कि आप सबको पता ही है कि मोदी जी कहीं भी जाते है तो सबसे जयादा उनको वहां का पहनावा ही उपहार के रूप में दिया जाता है और वो उसको बहुत गर्व से लेते भी नज़र आते है. इसी कड़ी में कहा जाए तो उनकी इस प्रदर्शनी में पगड़ी और शॉल का तो संग्रह काफी अच्छा है. पगड़ी में ही विभिन्न राज्यों के पहनावे में भिन्नता नज़र आ जाएगी. ये सारे उपहार प्रधानमंत्री कार्यालय व आवास से जुटाए गए हैं. सेवा कार्य के लिए प्रधानमंत्री को मिले इन उपहारों की नीलामी भी की जाएगी. एनजीएमए के प्रवक्ता के मुताबिक प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) जल्द ही ई-नीलामी प्रक्रिया की घोषणा करेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here