बहुमुखी प्रतिभा के धनी एनडी तिवारी का आज मैक्स अस्पताल में निधन हो गया है. बता दें कि आज उनका जन्मदिन भी था, लेकिन पिछले एक साल से वे बीमार चल रहे थें. 93 साल के एनडी तिवारी का पूरा नाम नरायण दत्त तिवारी है. आज ही के दिन 18 अक्टूबर को उनका कुमाऊंनी परिवार में जन्म हुआ था. सियासी दलों के नेताओं ने उनके निधन पर शोक व्यक्त किया है.

लंबी सियासी पारी

बता दें कि आजादी के बाद उत्तर प्रदेश में हुए पहले चुनाव में वे प्रजा समाजवादी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़कर विधानसभा पहुंचे थें. इसके साथ वे राज्यसभा के सदस्य भी रहे थें. इतना ही नही 1990 के दशक में तो उन्हें प्रधानमंत्री के पद का दावेदार भी माना जा रहा था, लेकिन प्रधानमंत्री का पद पीवी नरसिम्हा राव को मिल गया, क्योंकि वे लोकसभा का चुनाव 800 वोटों से हार गए थें.

बता दें कि उनका राजनीति में लंबा सफर रहा था. बता दें कि वे उत्तर प्रदेश के तीन बार और उत्तराखंड के एक बार मुख्यमंत्री भी रह चुके थें. इसके साथ ही वे केंद्र में वित्त और राज्य मंत्री भी रह चुके थें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here