Delhi-Metro-doors-open

नई दिल्ली : दिल्ली मेट्रो की बड़ी लापरवाही की खबरे सामने आई है. जी हां, यात्रियों की सुरक्षा के लिए दिल्ली मेट्रो में बहुत सुरक्षा और सावधानी राखी जाती है. लेकिन सोमवार की रात करीब 10 बजे यैलो लाइन की मेट्रो चावड़ी बाजार और कश्मीरी गेट के बीच असावधानी वर्तते हुए खुले दरवाजे के साथ अपनी स्पीड में निकल गई.

DMRC इस मामले की जांच में जुटी है. यात्रियों के सुरक्षा में दिल्ली मेट्रो की इतनी बड़ी लापरवाही हैरान करने वाली है और सोचने वाली है कि आखिर दरवाजा खुला कैसे रह गया…? हालांकि, राहत की बात यह है कि किसी भी यात्री के हताहत होने की खबर नहीं है. इतना ही नही मिली जानकारी के मुताबिक, मेट्रो में सवार लोगों के इमरजेंसी अलार्म बजाने की कोशिश की लेकिन वह अलार्म भी नहीं बजा.

मेट्रो ट्रेन गुड़गांव की तरफ से आकर विश्वविद्यालय की ओर जा रही थी और यह घटना चावड़ी बाजार और कश्मीरी गेट के बीच हुआ. लेकिन चावडी बाजार से जैसे ही मेट्रो आगे बढ़ी, कोच का एक दरवाजा बंद ही नहीं हुआ. यूं तो मेट्रो के दरवाजों में सेंसर लगे होते हैं और दरवाजा बंद नहीं होने तक मेट्रो आगे नहीं बढ़ती है, लेकिन यहां कुछ ऐसी तकनीकी खराबी आयी कि दरवाजा खुला होने के बावजूद मेट्रो ने रफ्तार पकड़ ली और चांदनी चौक की तरफ बढ़ गई. लेकिन, इस वीडियो और घटना ने मेट्रो की बड़ी लापरवाही उजागर कर दी,

DMRC ने इस मामले पर सफाई देते हुए कहा कि ट्रेन का दरवाजा आंशिक रूप से खुला था और यात्रियों के बाहर निकलने तक मेट्रो कर्मचारियों की निगरानी में था. हालांकि कश्मीरी गेट से ट्रेन को वापस बुला लिया गया.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here