राहुल गांधी से मिलने पहुंचे नायडू

आंध्र प्रदेश के सीएम एन चंद्रबाबू नायडू राहुल गांधी के आवास पर पहुंच चुके हैं. जहां वो उनसे मुलाकात करेंगे. बताया जा रहा है कि नतीजों से ठीक पहले गठबंधन को लेकर नायडू सभी विपक्षी नेताओं से मुलाकात कर रहे हैं. इसके बाद वो मायावती और अखिलेश यादव से भी मिल सकते हैं.

लोकसभा चुनाव के सातवें चरण के मतदान के लिए प्रचार थम चुका है। NDA और UPA दोनों तरफ से बहुमत मिलने के दावे किये जा रहे हैं, लेकिन नंबर को लेकर कोई भी आश्वस्त नहीं है। ऐसी में दोनों खेमा अपने अपने तरीके से सहयोगियों को एक प्लैटफॉर्म पर लाने की जुगत में लग गया है। कुछ विपक्षी दलों ने इसके लिए तैयारियां भी शुरू कर दी हैं। नतीजों से ठीक पहले तेलुगू देशम पार्टी (TDP) प्रमुख और आंध्र प्रदेश के सीएम एन चंद्रबाबू नायडू ने समीकरण बिठाने शुरू कर दिए हैं। बताया जा रहा है कि आज नायडू राहुल गांधी और मायावती से मुलाकात कर सकते हैं।

सूत्रों की मानें तो आज आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री और तेलगू देशम पार्टी (टीडीपी) प्रमुख और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायड़ू आज कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात करेंगे। सूत्रों के मुताबिक, गैर-बीजेपी गठबंधन बनाने के लिए क्षेत्रीय दलों को एकजुट करने में जुटे टीडीपी अध्यक्ष नायडू आज लखनऊ में बीएसपी अध्यक्ष मायावती से भी मुलाकात कर सकते हैं।

इससे पहले शुक्रवार शाम को चंद्रबाबू नायडू ने सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मुलाकात की थी। आम आदमी पार्टी ने इसे ‘‘शिष्टाचार भेंट’’ बताया है। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और आप के वरिष्ठ नेता संजय सिंह भी इस दौरान मौजूद थे।

सूत्रों के अनुसार, नायडू और केजरीवाल के बीच चुनाव परिणाम के बाद के हालात, उस वक्त दोनों पार्टियों (टीडीपी और आप) की भूमिका आदि पर चर्चा हुई। हालांकि आप का कहना है कि नायडू ने केजरीवाल से ‘‘शिष्टाचार भेंट’’ की।

करीब चार साल तक बीजेपी की सरकार में रहे चंद्रबाबू नायडू आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा दिये जाने की मांग को लेकर सरकार से अलग हुए थे। उसके बाद से ही नायडू बीजेपी के खिलाफ गठबंधन बनाने की कोशिश में जुटे हैं। नायडू ने पिछले दिनों पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी से मुलाकात की थी और उनके साथ चुनावी मंच पर नजर आए थे।

यही नहीं टीडीपी प्रमुख वीवीपीएपी पर्ची और ईवीएम के मिलान के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट गए। इस याचिका पर 21 दलों ने सहमति जताई थी। इस दौरान भी उन्हें विपक्ष के कई नेताओं से मुलाकात की थी।

तेलंगाना के मुख्यमंत्री और टीआरएस प्रमुख के चंद्रशेखर राव (केसीआर) ने भी पिछले दिनों डीएमके प्रमुख एमके स्टालिन और केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन से मुलाकात की थी। केसीआर गैर कांग्रेस और गैर बीजेपी सरकार के पक्षधर हैं।