नई दिल्ली : दुनिया भर में कई जाने माने भविष्यवक्ता हैं जो देश और दुनिया में होने वाली कई बड़ी घटनाओं की भविष्यवाणी कई सालों पहले ही करते हैं वो भी बिल्कुल सटीक। ऐसे में अगर पुराने और सबसे जाने माने भविष्यवक्ताओं की बात करें तो इस लिस्ट में पहला नाम ‘नास्त्रेदमस’ का है.

नास्त्रेदमस फ्रांस के 16वीं (1503-1566) सदी के जाने माने भविष्यवक्ताओं में से एक हुआ करते थे, इसके साथ ही वह पेशे से डॉक्टर और शिक्षक भी रह चुके थे। ये प्लेग जैसी बीमारियों का इलाज भी करते थे।

नास्त्रेदमस के पास ऐसी ख़ास शक्तियां थीं जिनसे वो सालो आगे की बातें पहले ही बता दिया करते थे. नास्त्रेदमस के बारे में ये बात आपको हैरान करने वाली लगेगी लेकिन आजतक उन्होंने जितनी भी भविष्यवाणियां की हैं उनमें से अमूमन सच साबित हुई है.

आमतौर पर जितने भी भविष्यवक्ता होते हैं वो अपनी भविष्यवानियों को साफ़ साफ़ बता देते हैं लेकिन अगर नास्त्रेदमस की बात करें तो ऐसा नहीं था क्योंकि नास्त्रेदमस अपनी भविष्यवानियों को कविता के माध्यम से कहते थे.

भारत के लिए नास्त्रेदमस की भविष्यवाणियां

भारत से जुड़ी नास्त्रेदमस की भविष्यवाणियों की बात करें, तो उन्होंने राजीव गांधी की हत्या से लेकर विश्व युद्ध तक की भविष्यवाणी की, और आश्चर्य की बात है कि यह सभी भविष्यवाणियां सच हो गईं।

नास्त्रेदमस ने यह भी कहा था कि भारत में एक ऐसा पुरुष सत्ता पर विराजमान होगा, जो राजनीति के संदर्भ को हिलाकर रख देगा। विभिन्न शोधकर्ताओं की नजर में नास्त्रेदमस की यह भविष्यवाणी ‘नरेंद्र मोदी’ की ओर ही इशारा करती है।

नास्त्रेदमस की वर्ष 2017 से जुड़ी भविष्यवाणी कहती है कि भारत 2017 का यह वर्ष सालों-साल याद रखेगा। इस वर्ष कुछ ऐसा खास होगा, जो भारतीयों को दुनिया के सामने बड़े स्तर पर ले आएगा।

इसके बाद नास्त्रेदमस ने जो कहा, उसे जान आपके होश उड़ जाएंगे। यह तो सभी जानते हैं कि नास्त्रेदमस ने अपनी भविष्यवाणियों में भारतीय सत्ता की बात कही, जिसके अनुसार नरेन्द्र मोदी एक बेहतरीन सत्ताधारी साबित होंगे।

लेकिन एक अगली भविष्यवाणी के अनुसार नरेन्द्र मोदी भारतीय सत्ता संभालने के बाद अगले 12 सालों तक देश के हित में कार्य करेंगे। वर्ष 2026 तक मोदी सरकार भारत पर राज करेगी।

इसके अलावा नास्त्रेदमस के अनुसार उत्तर एवं दक्षिण कोरिया साल 2017 में अपनी वर्षों पुरानी लड़ाई तोड़ देंगे। दोनों देशों में समझौता हो जाएगा। लेकिन इतना बड़ा बदलाव आखिरकार कैसे हो सकता है और होगा भी या नहीं, यह तो वक्त ही बताएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here