जेट एयरवेज के फाउंडर नरेश गोयल से प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शुक्रवार को पूछताछ की. अधिकारियों ने बताया कि उनसे यह पूछताछ फॉरेन करेंसी एक्सचेंज कानूनों के कथित उल्लंघन मामले में की गयी है. एजेंसी ने पिछले महीने ही गोयल के परिसरों में तलाशी अभियान चलाया था, उसके बाद यह पहली दफा है जब केंद्रीय जांच एजेंसी ने उनसे पूछताछ की है.

अधिकारियों ने बताया कि यहां निदेशालय के क्षेत्रीय कार्यालय में फॉरेन करेंसी एक्सचेंज प्रबंधन कानून के प्रावधानों के तहत गोयल का बयान दर्ज किया गया. ईडी ने अगस्त में गोयल के मुंबई स्थित आवास, उनके समूह की कंपनियों, उनके निदेशकों और जेट एयरवेज के कार्यालयों समेत दर्जनभर ठिकानों की तलाशी ली थी.

एनफोर्समेंट डायरेक्टरेट इन कंपनियों के खिलाफ बिक्री, वितरण और परिचालन खर्च की आड़ में संदिग्ध लेनदेन के कथित आरोपों की जांच कर रही है. निदेशालय को अंदेशा है कि इन कंपनियों में खर्च को कथित तौर पर बढ़ा-चढ़ा कर या फर्जी रूप से दर्ज किया गया है, जिसके चलते कंपनी को भारी नुकसान में दिखाया गया.