पश्चिमी उत्तर प्रदेश का फरार अपराधी बदन सिंह ने शहर के कई बड़े परिवार के बच्चों की हत्या की धमकी दी है। बदन चाहता है कि पुलिस उसके बेटे का नाम FIR से निकाले। इसी लिए दबाव बनाने के लिए फरारी के बाद भी लोगों इंटरनेट कॉलिंग के ज़रिये धमकी दे रहा है। अब तक बदन ने बीस लोगों को 10 दिन का अल्टीमेटम दिया। बद्दोबदन ने कॉल के दौरान कुछ बड़े कारोबारियों, एक वकील और कुछ अन्य लोगों के नाम भी लिए हैं, जिन्हें टारगेट पर बताया है। इन सभी लोगों को पुलिस ने गनर दिया है।

गैंगस्टर बदन सिंह बद्दो को गाजियाबाद में पेशी के दौरान फरार हो गया था। इसी मामले में पुलिस ने बदन को भगाने की साज़िश रचने वालों में उसके बेटे सिकंदर समेत कई सहयोगियों को नामजद किया। 13 लोगों की अभी तक गिरफ्तारी की जा चुकी है। फरार होने के बाद बद्दो ने इंटरनेट कॉल की मदद से शहर के लोगों को धमकियाँ दे रहा है।

बद्दो ने कारोबारी को पहले धमकाया और इसके बाद कहा कि सिकंदर का फरारी में कोई हाथ नहीं है। बदन ने 8 लोगों के नाम लेते हुए कहा कि इन्होंने ही सिकंदर को फंसाया है, उसने धमकी दी कि सिकंदर को 10 दिन में क्लीन चिट नहीं दिलाई और केस से उसका नाम नहीं निकला तो सिकंदर को नामजद कराने वाले सभी लोगों के बच्चे मार दूंगा। जब लड़ाई परिवार तक पहुंच ही गई है तो मैं भी उसी स्टाईल में बदला लूंगा।

बद्दो ने धमकी देते हुए बताया कि उसके पास सबके बच्चों की लोकेशन है। पता है कि कौन कहां पढ़ता है और कौन-कौन कहां पर रह रहा है। मेरी लखनऊ तक बात हुई है। इसके बाद डरे सहमे लोगों ने अपने बच्चों को दूर भेज दिया है। इस पूरे मामले में एसएसपी मेरठ को शिकायत दी गई है। सर्विलांस टीम, साइबर सेल और क्राइम ब्रांच के अलावा एसटीएफ और खुफिया एजेंसी तक की मदद ली जा रही है।