पटना साहिब से कांग्रेस के उम्मीदवार शत्रुघ्न सिन्हा ने शुक्रवार को दावा किया कि 2014 का मोदी लहर पिछले पांच साल में कहर बन गया और महागठबंधन बिहार में बीजेपी नीत एनडीए को उड़ा देगा। उन्होंने पड़ोसी राज्य उत्तरप्रदेश में भी कहा कि कांग्रेस भले अलग लड़ रही है लेकिन बीजेपी उसी तरह साफ हो जाएगी। उत्तर प्रदेश में लखनऊ सीट से उनकी पत्नी को सपा-बसपा गठबंधन ने उम्मीदवार बनाया है।

शत्रुघ्न सिन्हा ने प्रचार के अंतिम दिन प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि महागठबंधन उन लोगों के परखचे उड़ा देगा। पटना साहिब से उनके खिलाफ केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद मैदान में हैं। इस सीट पर 19 मई को मतदान है। तीन दशक तक जुड़ाव के बाद पिछले महीने बीजेपी छोड़ने वाले शत्रुघ्न सिन्हा ने जमकर आलोचना की। उन्होंने कहा कि अगर एक पल के लिए मान लीजिए कि मैं मंत्री पद नहीं मिलने से नाराज था, तो बताइए कि लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी जैसे वरिष्ठ नेताओं के साथ बुरा सलूक क्यों किया गया। बीजेपी को बताना चाहिए कि अरुण शौरी जैसे बड़े बुद्धिजीवी अब इस तरह क्यों विरोध कर रहे हैं। यशवंत सिन्हा ने पार्टी क्यों छोड़ दी।  शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि दिक्कत यह थी कि मैं सच बोल रहा था। मैं नोटबंदी के कारण लोगों की परेशानी और अर्थव्यवस्था को हुए नुकसान के बारे में बोल रहा था। जीएसटी के खराब क्रियान्वयन के बारे में बोल रहा था।

पटना साहिब: शत्रुघ्‍न सिन्‍हा के रोड शो में दिखी महागठबंधन की एकजुटता
राहुल गांधी ने पाटलिपुत्र संसदीय क्षेत्र के विक्रम में राजद प्रत्‍याशी मीसा भारती के लिए जनसभा को संबोधित करने के बाद पटना साहिब सीट पर कांग्रेस प्रत्‍याशी शत्रुघ्‍न सिन्‍हा के लिए रोड शो किया था। रोड शो पटना के माइनुल हक स्‍टेडियम से शुरू होकर नाला रोड तक हुआ। इसमें राहुल गांधी के साथ शत्रुघ्‍न सिन्‍हा पत्‍नी पूनम सिन्‍हा के साथ मौजूद रहे। इस दौरान राहुल गांधी व शत्रुघ्‍न सिन्‍हा के समर्थन में नारे लगते रहे। राहुल, शत्रुघ्‍न इस दौरान हाथ हिला जनता का अभिवादन करते रहे।

महागठबंधन और कांग्रेस जिंदाबाद के नारे
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार की शाम पटना में रोड शो कर पटना साहिब के अपने उम्मीदवार शत्रुघ्न सिन्हाके लिए वोट मांगा। इस आयोजन में हजारों समर्थन उमड़े और जमकर नारेबाजी की। रोड शो प्रेमचंद गोलंबर, दिनकर चौक से सीधे शिवमंदिर से नाला रोड तिराहे तक करीब 45 मिनट में पहुंचा। चुनावी रथ पर शत्रुघ्न सिन्हा अपनी पत्नी पूनम सिन्हा के साथ सवार थे। दिनकर चौक से चुनावी रथ पर तेजस्वी यादव भी सवार हुए। चारों तरह महागठबंधन और कांग्रेस जिंदाबाद के नारे लगते रहे।