नई दिल्ली: कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन समारोह में इमरान खान के बुलावे पर पाकिस्तान जा सकते हैं. सिद्धू ने विदेश मंत्रालय से पाकिस्तान जाने की इजाजत मांगी है. उनकी पत्नी नवजोत कौर सिद्धू ने कहा कि अगर इजाजत मिली तो सिद्धू पाकिस्तान जरूर जाएंगे.

पिछले दिनों पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष सुनील जाखड़ और विधायक अमरिंदर राजा ने कहा था कि करतारपुर कॉरिडोर खुलवाने में सिद्धू का बड़ा योगदान है और उनको पाकिस्तान जाना चाहिए. यह पंजाबियों के लिए सत्कार की बात है.

वहीं 31 अक्टूबर को विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने इमरान खान द्वारा भेजे गए निमंत्रण को सिद्धू द्वारा स्वीकार करने पर एक सवाल के जवाब में कहा था, “जिन्हें पाकिस्तान बुलाना चाहते है, उन्हें राजनीतिक मंजूरी लेनी होगी.”

करतारपुर गलियारे के उद्घाटन समारोह में शामिल होने के लिए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने सिद्धू को विशेष न्योता दिया है. इमरान खान नौ नवंबर को करतारपुर गलियारे का उद्घाटन करेंगे.

बता दें कि सिद्धू पिछले साल नवंबर में करतारपुर कॉरिडोर के शिलान्यास के लिए पाकिस्तान गए थे. तब भारत में इसको लेकर काफी विवाद हुआ था. बीजेपी ने सिद्धू पर सवाल उठाए थे.

इस कॉरिडोर के जरिए भारत के नागरिक बिना वीजा के करतारपुर साहिब गुरुद्वारा जा सकेंगे. गुरुनानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व के मौके पर शुरू हो रहे इस कॉरिडोर के चालू हो जाने पर सिख श्रद्धालु एक ही दिन में सरहद के दोनों तरफ बने डेरा बाबा नानक और करतारपुर साहिब गुरुद्वारों के दर्शन कर सकेंगे. पाकिस्तान प्रत्येक तीर्थयात्री से 20 डॉलर की फीस वसूलेगा.