गुजरात में भाजपा की सरकार बनने के साथ ही खटपट की खबरें आने लगीं. ऐसा कहा गया कि प्रभावी मंत्री पद नहीं मिलने के कारण उपमुख्यंत्री नितिन पटेल नाराज हैं. ऐसी भी खबर आई कि नितिन पटेल ने कहा है कि आत्मसम्मान को ठेस पहुंचाए जाने के मुद्दे पर वे इस्तीफा भी दे सकते हैं. इस खबर के बाद हार्दिक पटेल तुरंत सामने आए और उन्होंने नितिन पटेल को न्यौता दे डाला कि वे हमारे साथ आएं और कांग्रेस के साथ मिलकर सरकार बनाएं.

उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल की नाराजगी की खबरों के बाद हार्दिक ने कहा है कि नितिन पटेल अगर 10 विधायकों के साथ भाजपा छोड़ने के लिए तैयार हैं, तो वे इस मुद्दे पर कांग्रेस से बात कर सकते हैं. हार्दिक पटेल ने कहा है कि अगर भाजपा नितिन पटेल की इज्जत नहीं करती है, तो उन्हें तुरंत ही पार्टी छोड़ देनी चाहिए. हालांकि हार्दिक के इस खुले आमंत्रण पर अब तक नितिन पटेल या गुजरात भाजपा के किसी नेता की प्रतिक्रिया नहीं आई है.

ऐसी खबर आई थी कि गुजरात में मुख्यमंत्री विजय रुपाणी द्वारा किए गए मंत्रिमंडल बंटवारे से उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल खुश नहीं है. वे अपने लिए वित्त मंत्रालय चाहते थे, लेकिन उन्हें वो नहीं मिला. नितिन पटेल की नाराजगी पहली बार तब सामने आई, जब गुरुवार को हुई कैबिनेट की पहली बैठक में उन्होंने आने से मना कर दिया. उसके बाद मुख्यमंत्री विजय रुपाणी खुद उनको मनाने के लिए उनके घर गए, फिर शाम 5 बजे शुरू होने वाली बैठक में वे रात 9 बजे पहुंचे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here