बिहार के गया में एक नाबालिग के साथ कथित गैंगरेप का मामला सामने आया है। गैंगरेप पीड़िता जब पुलिस के पास अपनी शिकायत लेकर गई तो शिकायत दर्ज नहीं की गई। इसके बाद जब वह गांव की पंचायत के पास गई तो उसकी मदद करने के बजाय पंचायत ने उल्टा उसका सिर मुंडवा दिया और फिर गांव में परेड करवाई। मामले के तूल पकड़ते ही पुलिस ने पंचायत के चार सदस्यों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

बताया जा रहा है कि 15 वर्षीय लड़की के साथ करीब 6 लोगों ने रेप किया है। हालांकि अभीतक उसका मेडिकल टेस्ट नहीं हुआ है। पीड़िता की शिकायत के मुताबिक जब स्थानीय पुलिस ने शिकायत दर्ज नहीं की तो वह पंचायत के पास न्याय की उम्मीद लेकर गई। इस दौरान पंचायत के सदस्यों ने मदद करने बजाय उसपर ही सवाल खड़े कर दिए। इसके बाद लड़का का सिर मुंडवाकर उसे पूरे गांव में घुमाया गया।

वहीं मामले के तूल पकड़ते ही पुलिस हरकत में आई और पंचायत के सदस्यों के खिलाफ और रेप के आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है। स्थानीय पुलिस के एक सीनियर अधिकारी ने यह जानकारी दी। पुलिस के मुताबिक मामला मोहनपुर थाना क्षेत्र का है। यहां घर से बाहर कार में सवार कुछ लोग नाबालिग को जबरन उठाकर ले गए।

बताया जा रहा है कि इसके बाद कार में सवार बदमाश नाबालिग को एक सुनसान जगह ले गए जहां पर उसके साथ रेप किया गया। पीड़िता ने कहा है कि कार में 6 लोग मौजूद थे। वहीं आरोप है कि इन्हीं 6 लोगों ने उसके साथ रेप किया था। वहीं इस पूरे मामले पर बच्ची की मां का कहना है कि जब मैं पुलिस से मदद मांगने गई तो हमारी समस्या को हल करने की बजाए वह मेरी बेटी को ही गलत कह रहे थे।