चंडीगढ़: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने मंगलवार को कहा कि 1995 से राष्ट्रीय राजधानी को की जा रही यमुना नदी के पानी की आपूर्ति को लेकर दिल्ली सरकार का हरियाणा पर 100 करोड़ रुपए का बिल बाकी है.

खट्टर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘‘हम दिल्ली सरकार को भुगतान के लिए लगातार लिख रहे हैं, लेकिन कोई सफलता नहीं मिली.’’ उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार के अधिकारी बैठकों के दौरान दिल्ली के अपने समकक्षों के साथ इस मुद्दे को उठाते रहे हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा, दिल्ली को प्रति दिन यमुना का 1049 क्यूसेक पानी की आपूर्ति करता है, जबकि अनुबंध के मुताबिक हरियाणा को प्रति दिन दिल्ली को 719 क्यूसेक पानी की ही आपूर्ति करनी है.