मध्यप्रदेश के कांग्रेस विधायक का एक वीडियो वायरल हो रहा है. जिसमें कांग्रेस विधायक को कुछ लोग अपने साथ खींचकर ले जाते नज़र आ रहे हैं. जो सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बना हुआ है.

दरअसल यह वीडियो है मध्यप्रदेश के धरमपुरी क्षेत्र के कांग्रेस विधायक पांचीलाल मेड़ा का. जो शराब ठेकेदारों द्वारा अभद्र व्यवहार किए जाने से नाराज होकर मुख्यमंत्री कमलनाथ को इस्तीफा देने भोपाल पहुंचे थे. लेकिन जब उन्होंने इस मामलें में मीडिया से बात करने की कोशिश की तो मंत्री प्रद्युमन सिंह ने न सिर्फ उन्हें रोका बल्कि अपने साथ खींचकर ले गए. इस दौरान उन्होंने कहा कि मेड़ा मेरे मित्र हैं. हम साथ में मुख्यमंत्री कमलनाथ  से मिलने जाएंगे.  मैंउन्हें अपने साथ ले जाऊंगा. जिसके बाद उन्होंने विधायक से एक बंद कमरे में चर्चा की.

@INCIndia @INCMP विधायक मेडा जब इस्तीफा देने पहुंचे तो कैबिनेट मंत्री कुछ यूं उन्हें सवालों से बचा ले गये @OfficeOfKNath @shailendranrb @ajaiksaran @ndtvindia pic.twitter.com/Ge78CIOhlq

— Anurag Dwary (@Anurag_Dwary) March 29, 2019

वहीं विधायक पांचीलाल मेड़ा ने इस्तीफे में लिखा है कि  मैं और मेरे कार्यकर्ताओं के खिलाफ शासकीय शराब दुकान के ठेकेदार द्वारा अभद्र व्यवहार एवं जातिसूचक शब्दों का प्रयोग किया गया. जिला प्रशासन भी मुझे कोई सहयोग प्रदान नहीं कर रहा है. इसके साथ उन्होंने जिला प्रशासन पर शराब माफिया के साथ साठगांठ का भी आरोप लगाया  है.

शराब माफिया पर कार्रवाई न होने से नाराज विधायक पांचीलाल मेड़ा का कहना है कि स्कूल के पास बनीं दो शराब दुकानों को हटाने के लिए उन्होंने अपने कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की थी. इसके बाद उन्होंने इसकी शिकायत प्रशासनिक अधिकारियों को भी की थी. लेकिन इस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई. साथ ही विधायक का कहना है कि शराब की दुकान तो नहीं हटी लेकिन शराब माफिया ने कार्यकर्ताओं के साथ अभद्रता जरुर की. इस मामले में कार्यवाही की मांग करते हुए उन्होंने अतिरिक्त आबकारी अधिकारी राधेश्याम राय को हटाने की मांग की है.