बिहार के गोपालगंज में सुशासन बाबू नितीश कुमार की गुंडाराज सरकार में एक और सनसनीखेज मामला सामने आया है जहां एक रिश्वतखोर इंजिनियर पर एक ठेकेदार को ज़िंदा जलाने का आरोप लगाया गया है। बिहार में अपराधी बेखौफ होते जा रहे हैं। नया मामला गोपालगंज जिले का है। यहां बेखौफ बदमाशों ने गंडक प्रॉजेक्ट कार्यालय में घुसकर एक ठेकेदार को जिंदा जला दिया। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। फिलहाल पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी है।

लालू यादव के राज में ठेकेदार इंजनियर को गोली मारता था अब नितीश बाबू के राज में इंजनियर ठेकेदार को ज़िंदा जला रहा है। कुल मिलाकर बिहार तब भी जल रहा था अब भी जल रहा है। पुलिस अधीक्षक राशिद जमा ने बताया कि मृतक ठेकेदार रामाशंकर सिंह के परिजनों द्वारा इस संबंध में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। एसपी के मुताबिक प्राथमिकी में पीड़ित परिवार ने बाढ़ नियंत्रण विभाग के मुख्य अभियंता मुरलीधर सिंह पर रामाशंकर के बकाया राशि की भुगतान के एवज में रिश्वत की मांग पूरी नहीं किए जाने पर उनकी हत्या कर दिए जाने का आरोप लगाया है।

पुलिस मामले की जांच में जुटी

एसपी ने कहा कि पुलिस द्वारा रामाशंकर के परिजनों द्वारा लगाए गए आरोप की जांच की जा रही है। उधर, रामाशंकर की हत्या के विरोध में स्थानीय लोगों ने राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 28 को कई घंटों तक जाम रखा। बाद में पुलिस और प्रशासन के समझाने पर समाप्त हुआ। एसपी ने कहा है कि मामले में जो भी दोषी पाया जाएगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।