छत्तीसगढ़ के भिलाई स्टील प्लांट में आज सुबह करीब 11 एक बड़ा हादसा हो गया. बताया जा रहा है कि गैस पाइप लाइन फटने से यह आग लगी है. उस वक्त वहां करीब 30 कर्मचारी काम कर रहें थे. इस धमाके में अब तक 10 लोगों की मौत की पुष्टि हुई है. घटनास्थल से शवों को बाहर निकला जा रहा है. गंभीर रूप से घायल करीब 15 लोगों को भिलाई के सेक्टर-9 अस्पताल में उपचार के लिए दाखिल कराया गया है. इनमें से 13 लोगों की हालत गंभीर बताई जा रही है.

जानकारी के मुताबिक मंगलवार की दोपहर प्लांट के कोक ओवन के बैटरी नंबर 11 में काम चल रहा था. इसी बीच गैस पाइप लाइन में अचानक ब्लास्ट हुआ और इसके बाद यहां भीषण आग लग गई. वहां उस वक्त करीब 30 कर्मचारी काम कर रहे थे. घटना के बाद वहां अफरा-तफरी मच गई. तत्काल फायर ब्रिगेड मौके पर पहुंची, लेकिन आग की लपटें इतनी भीषण थी कि इस पर काबू पाने के लिए दमकल कर्मियों को काफी मशक्कत करनी पड़ी. घटना की सूचना मिलते ही आईजी जीपी सिंह और एसपी डॉ संजीव शुक्ला तत्काल दल बल के साथ मौके पर पहुंचे. सीआईएसएफ और पुलिस बल ने घटना के बाद पूरे इलाके को सील कर दिया गया है. हादसे की सूचना फैलते ही बड़ी तादात में लोग प्लांट और सेक्टर-9 अस्पताल में जमा हो गए. संयंत्र में लंबे समय से छोटी-बड़ी घटनाएं हो रही थीं, लेकिन प्रबंधन इसे नज़रअंदाज करता आ रहा था.

भिलाई स्टील प्लांट की इस दुर्घटना ने एक बार फिर इंडस्ट्रियल एक्सीडेंट की तरफ सबका ध्यान खींचा है.  भारत और दुनिया में यह पहला मौका नहीं है, जब इस तरह का हादसा हुआ हो. ऊंचाहार एनटीपीसी हादसे से लेकर भोपाल गैस कांड तक ऐसे कई इंडस्ट्रियल एक्सीडेंट हो चुके हैं जिनसे अभी भी कोई सीख नहीं ली जा रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here