cbi raid at former union minister P Chidambarams residence in Chennai

नई दिल्ली : कांग्रेस सरकार में वित्त मंत्री रह चुके पी. चिदंबरम और उनके बेटे कार्ति चिदंबरम के घर पर मंगलवार सुबह सीबीआई ने छापा मारा है। इसके साथ ही सीबीआई ने कुल 16 ठिकानों पर छापेमारी की है. अपने और अपने बेटे के घर पर हुई छापेमारी की चिदम्बरम ने घोर निंदा की हैं और कहा है कि छापेमारी के जरिये उनकी आवाज़ को दबाने की कोशिश की जा रही है.

केंद्रीय जांच एजेंसी-सीबीआई ने पी चिदंबरम के चेन्नई स्थित निवास और कार्ति चिदंबरम के कराईकुडी के घर में छापा मारा है। मिली जानकारी के अनुसार सीबीअाई की यह कार्रवाई 16 जगहों पर जारी है। पीटर मुखर्जी के आईएनएक्स मीडिया को मंजूरी देने के मामले में चिदंबरम के खिलाफ सोमवार को एफअाईअार दर्ज हुई थी।

चिदंबरम के खिलाफ सोमवार को दर्ज की गई एफअाईअार के बाद छापेमारी की गई है। चेन्नई के अलावा चिदंबरम व कार्ति के मुंबई, दिल्ली, गुरुग्राम, चेन्नई स्थित ठिकानों पर सीबीआई का सर्च अॉपरेशन जारी है।

इस छापेमारी के बाद चिदंबरम ने अपने बयान में कहा है कि उनकी आवाज़ को दबाने की कोशिश की जा रही है. चिदंबरम ने सरकार पर सीबीअाई और अन्य एजेंसियों का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया। चिदम्बरम के और उनके घर पर हुई इस कारवाई के बाद कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने इसकी कड़े शब्दों में निंदा की है साथ ही यह भी कहा कि ये बदले की कारवाई है.

यह मामला आईएनएक्स मीडिया से जुड़ा है। आईएनएक्स मीडिया के फंड को एफअाईपीबी के जरिये मंजूरी दी गई थी, उस दौरान पी. चिदंबरम विभाग के मंत्री थे। सोमवार को सीबीआई ने इस मामले में एफआईआर दर्ज की थी, जिसमें इंद्राणी मुखर्जी, पीटर मुखर्जी और कार्ति चिदंबरम का भी नाम शामिल था।

गौरतलब है कि इससे पहले 17 अप्रैल को प्रवर्तन निदेशालय ईडी ने 45 करोड़ रुपए से जुड़े फेमा कानून के उल्लंघन को लेकर कार्ति चिदंबरम और उनसे कथित तौर पर संबंधित कंपनी को कारण बताओ नोटिस जारी किया था।

ईडी ने दो साल से अधिक की जांच के बाद इसी प्रकार का नोटिस चेन्नई की कंपनी मेसर्स वासन हेल्थकेयर प्राइवेट लि. को 2,262 करोड़ रुपए के विदेशी विनिमय प्रबंधन कानून फेमा नियमों के उल्लंघन को लेकर जारी किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here