लखनऊ। बढ़ते तापमान के साथ ही राजधानी लखनऊ समेत अन्य इलाकों में अग्निकांड की घटनाएं लगातार घट रही हैं। ताजा मामला इंदिरा नगर थानांतर्गत मायावती कॉलोनी का है जहां राम विहार में लोगों के बीच उस समय अफरा तफरी मच गई जब यहां के फेज 2 के एक दो मंजिला मकान में शॉर्ट सर्किट के चलते अचानक आग लग गई।

जानकारी के मुताबिक बुधवार की अल सुबह 2:40 पर अचानक से आग लग गई। अग्निकांड की घटना में एक बच्चे समेत परिवार के पांच लोगों की दर्दनाक मौत हो गयी व घर का पूरा सामान जलकर खाक हो गया। स्थानीय लोगों की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस और फायर ब्रिगेड ने कड़ी मशक्कत के बाद किसी तरह से आग पर काबू पाया।


घर में बने गैस गोदाम में आग
स्थानीय लोगों की मदद से पुलिस और दमकल कर्मियों ने अग्निकांड की चपेट में आये पांच लोगों को लोहिया अस्पताल में उपचार के लिए पहुंचाया, जहां डॉक्टर ने पांचों को मृत घोषित कर दिया। स्थानीय लोगों से मिली जानकारी के अनुसार घर में बने गैस गोदाम की वजह से इतना बड़ा हादसा घटित हुआ है। आग लगने की घटना में मकान मालिक ओपी सिंह व उनके बेटे सुमित समेत 5 लोगों की दर्दनाक मौत हो गयी है। अग्निकांड की घटना में एक ही परिवार के 5 लोगों की दर्दनाक मौत होने के बाद से इलाके में मातम का माहौल व्याप्त है। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने घटना पर दुःख जताते हुए ट्वीट किया, “लखनऊ के इंदिरा नगर में लगी आग से गई जानों का हमें दुःख है। ईश्वर परिजनों को इस कठिन घड़ी से लड़ने का साहस दे।”

जेसीबी की मदद तोड़ी गई मकान के पीछे की दीवार
जब आग पर काबू नहीं पाया जा सका तो पुलिस और फायर ब्रिगेड ने जेसीबी मंगवाई और मकान के पीछे की दीवार तोड़ी गई। जिसके बाद दमकल कर्मी भीतर घुसे। यहां बाथरूम में सुमित की बहन वंदना (23) भी लगभग मृत अवस्था में उनको मिली। अस्पताल पहुंचाने पर डॉक्टरों ने उसे भी मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने पांचों शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। हादसे से एक ओर जहां मृतकों के परिजनों में कोहराम मचा है।