भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने गुरुवार को कहा कि देश के हर कोने से घुसपैठियों को खदेड़ेंगे. शाह ने एक चुनावी जनसभा में कहा कि एक बार फिर से मोदी सरकार बना दीजिए, उसके बाद कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी और कोलकाता से लेकर कच्छ तक पूरे देश से एक-एक घुसपैठिए को चुन-चुन कर खदेड़ने का काम बीजेपी सरकार करेगी.

उन्होंने कहा, “13वें वित्त आयोग में यूपीए की सरकार ने उत्तर प्रदेश को 3 लाख 30 हजार 807 करोड़ रुपये दिए थे. लेकिन मोदी सरकार ने उत्तर प्रदेश के विकास में पिछले पांच साल में 10 लाख 27 हजार 323 करोड़ रुपये दिए.”

कानून व्यवस्था की चर्चा करते हुए शाह ने कहा, “उत्तर प्रदेश में पहले सपा-बसपा राज में पुलिस वाले गुंडों से डरते थे. जनता दर्द से कराहती थी, लेकिन अब योगी सरकार ने गुंडों को उल्टा लटकाकर सीधा कर दिया है. अब गुंडे गले में बोर्ड लगाकर घूमते हैं. हमें गिरफ्तार कर लो, एनकाउंटर मत करना.”

उन्होंने बंगाल के रोडशो की चर्चा करते हुए कहा, “मेरे रोडशो में केंद्रीय सुरक्षा बल के जवान मेरी सुरक्षा में थे. वहां के लॉ एंड ऑर्डर के लिए नहीं थे. वहां के लॉ एंड ऑर्डर का पूरा जिम्मा बंगाल पुलिस का है. वह बंगाल सरकार के अधीन है. चुनाव के दौरान हुई हिंसा की पूरी जिम्मेदारी बंगाल पुलिस की है.”

अमित शाह ने राष्ट्रवाद को हथियार बनाते हुए कश्मीर मुद्दे की चर्चा भी की. उन्होंने कहा, “भाजपा कहती है कि कश्मीर से धारा 370 हटा देंगे. राहुल गांधी कहते हैं कि देशद्रोह की धारा हटा देंगे. भारत माता के टुकड़े के नारे लगाने वालों को जेल में डालने पर राहुल बाबा को दुख होता है. इसलिए वे देशद्रोह की धारा ही हटाना चाहते हैं.”

शाह ने आतंकवाद के मसले पर मोदी सरकार द्वारा उठाए कदमों को सराहते हुए कहा, “दुनिया में दो ही देश ऐसे थे, जो अपने जवानों के खून का बदला लेते थे. एक अमेरिका और दूसरा इजराइल. इन दो देशों की सूची में मोदी जी ने अब तीसरा नाम भारत का जोड़ने का काम किया है.”

पाकिस्तान पर भारतीय सेना द्वारा की गई एअर स्ट्राइक के मुद्दे पर शाह ने कांग्रेस और सपा-बसपा गठबंधन को घेरते हुए कहा, “एयर स्ट्राइक के बाद दो जगह मातम छा गया था. एक पाकिस्तान में और दूसरा राहुल बाबा, अखिलेश और मायावती के कार्यालय में.”

भाजपा प्रमुख ने राहुल गांधी, मायावती और अखिलेश को निशाना बनाते हुए कहा, “बुआ-भतीजा, राहुल बाबा कान खोल के सुन लो, यह नरेंद्र मोदी सरकार है. पाकिस्तान से गोली आएगी तो यहां से गोला जाएगा.”

इससे पहले प्रदेश के महाराजगंज लोकसभा क्षेत्र के नौतनवां स्थित छपवा तिराहे के पास मैदान में आयोजित जनसभा में शाह ने कहा, “सपा-बसपा के गुंडे प्रदेश के गरीबों की जमीन कब्जा लेते थे. जब से प्रदेश में भाजपा की सरकार आई और हमने गुंडा विरोधी स्क्वायड बनाया है, तब से ये गुंडे गरीबों की जमीन को हाथ लगाने की हिम्मत तक नहीं करते.”

उन्होंने कांग्रेस की चुटकी लेते हुए कहा, “राहुल बाबा एंड कंपनी को आप रोने दीजिए. फिर से मोदी जी को लाइए. अभी तो हमने असम से शुरुआत की है, हम कलकत्ता से कच्छ तक और कश्मीर से कन्याकुमारी तक एक-एक घुसपैठिए को देश के बाहर निकालेंगे.”

शाह ने कहा कि राहुल और अखिलेश के साथी उमर अब्दुल्ला कहते हैं कि कश्मीर में दूसरा प्रधानमंत्री होना चाहिए. लेकिन जब तक बीजेपी की सरकार है और उसके कार्यकर्ता हैं, तब तक कश्मीर को भारत से कोई अलग नहीं कर सकता है.