कोलकाता रोड शो के दौरान हुई हिंसा पर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने राज्य की ममता बनर्जी सरकार पर हल्ला बोला है. आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में अमित शाह ने कहा कि अगर CRPF न होती तो मेरा वहां से बच निकलना बहुत मुश्किल था, सौभाग्य से ही मैं बचकर आया हूं. हमारे बहुत कार्यकर्ता मारे गए हैं, मुझ पर हमला होना भी स्वाभाविक था, इससे ये तय हो गया है कि TMC किसी भी हद तक जा सकती है.

तृणमूल कांग्रेस और ममता बनर्जी को आड़े हाथों लेते हुए अमित शाह ने कहा कि मैं उन्हे बताना चाहता हूँ कि तृणमूल  सिर्फ 42 सीटों पर चुनाव लड़ रही हैं और भाजपा देश के सभी राज्यों में चुनाव लड़ रही है.मगर कहीं पर भी हिंसा नहीं हुई, लेकिन बंगाल में हर चरण में हिंसा हुई इसका साफ़ मतलब है कि हिंसा TMC कर रही है. इसके साथ ही एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि रोड शो के दौरान हुई हिंसा के समय अगर वहां सीआरपीएफ नहीं होता तो मेरा वहां से बचकर निकलना मुश्किल था.

लोकसभा चुनाव के सातवें चरण के मतदान को लेकर उन्होंने कहा कि अगर आप ये संदेश देना चाहती हैं कि मुझ पर एफआईआर करके भाजपा के कार्यकर्ता डर जाएंगे, मैं आपको सुनिश्चित करता हूं कि भाजपा का कार्यकर्ता और वहां की जनता सातवें चरण में और भी ज्यादा आक्रोश के साथ आपके खिलाफ मतदान करने जा रहे हैं. अमित शाह ने कहा कि  हमारे पोस्टर बैनर फाड़े गए. हमारे कार्यकर्ताओं को उकसाया गया. हमारे कार्यकर्ता चुप रहे. दो से ढाई लाख लोग रोड शो के लिए पहुंचे थे. हमला तीन बार हुआ, पत्थर, कैरोसीन ऑयल सबका प्रयोग किया. सुबह से खबर थी की कॉलेज से लड़के हिंसा कर सकते हैं. लेकिन पुलिस ने कुछ नहीं किया. 

इसके साथ ही उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा कि जहां ईश्वर चंद्र विद्यासागर की प्रतीमा रखी है वो जगह कमरों के अंदर है कॉलेज बंद हो चुका था, सब लॉक हो चुका था, फिर किसने कमरे खोले.ताला भी नहीं टूटा है, फिर चाबी किसके पास थी.कॉलेज में टीएमसी का कब्जा है.

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने चुनाव आयोग की निष्पक्षता पर भी सवाल उठाते हुए कहा कि बंगाल में कहीं भी किसी  हिस्ट्रीशीटर की गिरफ्तारी नहीं हुई. जो चुनाव आयोग की निष्पक्षता पर सवाल  खड़ा करता है. अमित शाह  ने कहा कि दो  दिन पहले ममता दीदी ने धमकी दी. चुनाव आयोग ने क्यों संज्ञान नहीं लिया? ममता दीदी आप मुझसे बड़ी हो पर चुनाव लड़ाने में मेरा अनुभव आप से ज्यादा है. बंगाल के लोगों ने तय कर लिया है कि टीएमसी की हार तय है और देश में बीजेपी को बहुमत मिलेगा.इसके साथ ही उन्होंने कहा कि भाजपा वाले  एफआईआर से नहीं डरते. हमारे 60 से ज्यादा कार्यकर्ताओं की जान आपके गुंडों ने ले ली है फिर भी हमने अपना अभियान नहीं रोका.

अमित शाह ने ममता बनर्जी को चैलेन्ज करते हुए कहा कि बंगाल की जनता ममता जी को हटाने का मन बना चुकी है और मैं पूरी तरह आश्वस्त हूं कि इस बार बंगाल में भाजपा 23 से अधिक सीटें जीतने जा रही है.