महाराष्ट्र के पुणे में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. जहां एक महिला ने रोज-रोज के घरेलू झगड़ों से तंग आकर अपनी 19 वर्षीय बेटी की कथित तौर पर हत्या कर दी. मामला पुणे के बारामती  के प्रगतिनगर इलाके का है. मिली जानकारी के मुताबिक संजीवनी बोभाटे अपनी बेटी ऋतुजा पर भारी पत्थर से वार कर उसे मार डाला.

पुलिस उपाधीक्षक नारायण शिरगावकर (पुणे ग्रामीण) ने बताया कि पीड़िता ने पिछले साल अपने माता-पिता की इच्छा के खिलाफ जाकर दूसरी जाति के एक व्यक्ति से शादी कर ली. उसके माता-पिता की माली हालत ठीक नहीं है.कुछ ही महीनों में पति से अनबन के बाद वह अपने माता-पिता के घर आकर रहने लगी. हालांकि इस दौरानउसके माता-पिता ने दोनों को मिलाने की कोशिश की लेकिन पीड़िता का पति उसे वापस अपने साथ ले जाने को राजी नहीं था.

लेकिन इस बीच पीड़िता ने अपने पति के खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज कराया जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया. मगर उसके बाद भी उसने अपनी मां से मामले में दखल देने का अनुरोध किया ताकि वह अपने पति के साथ रह सके. जिसके बाद संजीवनी बोभाटे ने एक बार फिर अपने दामाद से संपर्क किया और बेटी को अपने साथ घर ले जाने को कहा साथ ही उसके खिलाफ दर्ज मामला वापस लेने की बात भी कही. जिसे उसके दामाद ने ठुकरा दिया.

पुलिस के मुताबिक पिछले कुछ दिनों से पीड़िता की इस मुद्दे पर अपनी मां संजीवनी बोभाटे के साथ जमकर लडाई हुई कि उन्होंने उसे पति से मिलाने के लिये कोई प्रयास नहीं किये.  दोनों महिलाओं में आज फिर कुछ घरेलू मुद्दों को लेकर कहासुनी हुई, जिसके बाद बोभाटे ने अपनी बेटी के सिर पर कथित तौर पर भारी पत्थर से वार किया जिससे उसकी मौत हो गयी. मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस तुरंत हरकत में आई और भारतीय दंड संहिता की धारा 302 के तहत हत्या का मामला दर्ज करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया.