airforce group captain arrested for leaking informations to isi

देश में लगातार आतंकवादी गतिविधियाँ होती रहती हैं जिनपर लगाम लगाने के लिए भारतीय सेना और भारतीय सरकार काफी मशक्कत करते हैं इसके बावजूद भी कई भार बड़ी आतंकी घटनाएं अंजाम दे दी जाती हैं और इनके बारे में कोई पता भी नहीं लगा सकता है. बता दें कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI को भारत की खूफिया जानकारियां लीक करने के आरोप में वायुसेना के ग्रुप कैप्टन को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने गिरफ्तार किया है.

गिरफ्तार किए गए ग्रुप कैप्टन का नाम अरुण मारवाह है. अरुण मारवाह को ऑफीशियल सीक्रेट एक्ट के तहत गिरप्तार किया गया है. जानकारी के मुताबिक़ अरुण हनी ट्रैप में फंसकर भारत की खुफिया जानकारी को लीक कर रहे थे लेकिन अब वो गिरफ्तार हो चुके हैं. अरुण ने ये जानकारियां ISI को उपलब्ध करवाई थी जो देश के लिए एक बड़े खतरे की बात है. फिलहाल गिरफ्तार किए गये ग्रुप कैप्टन से इस मामले में और पूछताछ की जा रही है.

कैप्टन मारवाह पर आरोप है कि वो कई महीनों से आईएसआई की महिला एजेंट्स के साथ सोशल मीडिया के जरिए संपर्क में थे. अरुण मारवाह को 5 दिन की पुलिस रिमांड में भेजा गया है. अरुण मारवाह पर ये भी आरोप है कि वो एयरफोर्स हेडक्वार्टर में अपना फोन लेकर जाते थे, जो कि अनधिकृत फोन था. बता दें कि एयरफोर्स के अधिकारियों को विशेष फोन दिए जाते हैं.

Read Also: रेणुका की हंसी पर छ़िडा विवाद

जानकारी के मुताबिक ग्रुप कैप्टन अरुण मारवाह दिसंबर में त्रिवेंद्रम गया था. वहां पर इसके फेसबुक मेसेंजर पर एक पुराने एयरफोर्स कर्मी के ज़रिए किरण रंधावा नाम की एक आईडी से इनवाइट आया. इससे चैटिंग शुरू हुई, वीडियो और फोटो भी शेयर हुए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here