पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के पार्थिव शरीर उनके आवास से जनता दर्शन के लिए भाजपा मुख्यालय में ले जाया गया  है. जेटली का पार्थिव शरीर ले जा रहे सैन्य वाहन के साथ बड़ी संख्या में बीजेपी नेता और  कार्यकर्ता  चल रहे थे.सूत्रों के मुताबिक बीजेपी मुख्यालय में अरुण जेटली का पार्थिव शरीर को दोपहर 2 बजे तक रखा जाएगा और उसके बाद अंतिम संस्कार के लिए पार्थिव शरीर को निगमबोध घाट के लिए ले जाया जाएगा.

पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली का शनिवार को दिल्ली के एम्स में निधन हो गया है. वह लंबे समय से बीमारी से जूझ रहे थे.  उन्होंने 12.07 बजे अंतिम सांस ली. वह 66 साल के थे. 9 अगस्त को सांस लेने में तकलीफ के बाद अरुण जेटली को एम्स में भर्ती कराया गया था.
अनुभवी डॉक्टरों की टीम की देखरेख में उनका इलाज किया जा रहा था. शनिवार सुबह ही केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन उन्हें देखने पहुंचे थे.
Adv from Sponsors