लोकसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी के संकल्प पर को लेकर विपक्षी पार्टियों द्वारा किए जा रहे हमलों का मंगलवार को केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह ने जवाब दिया। राजनाथ सिंह ने कहा कि भाजपा ने कभी नहीं कहा कि 15 लाख रुपये लोगों के खातों में आएंगे।

विपक्षी नेताओं पर की जा रही छापेमारी पर विपक्ष के आरोपों को भी उन्होंने गलत करार दिया। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि इसके पीछे कोई राजनीतिक प्रभाव नहीं, ईडी इनपुट पर कार्रवाई करने वाली एजेंसी है। उन्होंने कहा कि इसके लिए सरकार को दोषी ठहराना गलत है।
  • गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कांग्रेस पर साधा निशाना
  • राजनाथ सिंह- कभी नहीं कहा 15 लाख खाते में आएंगे
  • कश्मीर को कभी देश से अलग नहीं होने देंगे
यह प्रकिया सालों से चल रही है, आज शुरू नहीं हुई। ऐसा किसी के निर्देश पर नहीं किया जा रहा है। हां, चुनाव आयोग सरकार से सुरक्षा मांगता है तो सरकार उसका अनुपालन करती है। उन्होंने कहा कि यह छापेमारी भी चुनाव आयोग के ही आदेश पर की गई है, न कि सरकार के निर्देश पर। आपको बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह मंगलवार को एक न्यूज एजेंसी से बात कर रहे थे।

बालाकोट हमले राजनाथ सिंह ने कहा कि एयर स्ट्राइक के दौरान इस बात का खास ख्याल रखा गया कि कोई नागरिक हताहत न हो। उन्होंने कहा कि बालाकोट पर विपक्ष सरकार से सवाल करे, सेना से सबूत न मांगे। फारूक अब्दुल्ला के बयान पर राजनाथ सिंह ने कहा कि अगर अनुच्छेद 370 को हटा दिया जाता है, तो संभवत कश्मीर भारत से अलग हो जाएगा। लेकिन कश्मीर कभी भी भारत से अलग नहीं होगा। कोई भी ताकत कश्मीर को भारत से अलग नहीं कर सकती।