छतीसगढ़ के दंतेवाड़ा में आईडी ब्लास्ट कराकर भाजपा विधायक भीमा मंडावी सहित तीन लोगों कि हत्या को अंजाम देने वाला कुख्यात नक्सली को सुरक्षाकर्मियों ने मुठभेड़ में मार गिराया है।नक्सली कमांडर मुया ने भाजपा विधायक भीमा मंडावी हत्या की साज़िश रचने के साथ-साथ इसे अंजाम तक पहुंचाया  है। नक्सली कमांडर मुया आठ लाख का इनामी था। नक्सली कमांडर मुया ने अपने 12 साथियों के साथ मिलका भीमा मंडावी को तब निशाना बनाया था जब वो अपने छेत्र में जा रहे थे।

दंतेवाड़ा एसपी अभिषेक पल्लव ने मुया के मारे जाने की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि बुधवार देर रात डीआरजी (डिस्ट्रिक्ट रिजर्व ग्रुप), किरंदुल को गुमियापाल, मड़कामीरास के जंगलों में नक्सलियों के होने की सूचना मिली। गुरुवार सुबह सर्चिंग के दौरान जवानों का नक्सलियों से सामना हो गया। मुठभेड़ में मुया मारा गया। उसका शव बरामद कर लिया गया है। मौके से रायफल और छह कारतूस मिले हैं। मुया मलनगिर एरिया कमेटी में लंबे समय से सक्रिय था। श्यामागिरी ब्लास्ट के अलावा वह चोलनार ब्लास्ट में भी शामिल था। इसमें किरंदुल थाने के जवान शहीद हुए थे।