औरंगाबाद: महाराष्ट्र के औरंगाबाद शहर के चिकलथाना औद्योगिक क्षेत्र में पानी के लिए बनी ड्रेनज लाइन के मेन होल में सफाई के लिए उतरे 7 में से 3 लोगों की मौत हो गई है, जबकि 4 अन्य की हालत गंभीर बनी हुई है। मज़दूरों की मौत की वजह मेन होल में जहरीली गैस बताई जा रही है।

जानकारी के मुताबिक, हादसे का शिकार हुए तीन मजदूरों की हालत गंभीर बनी हुई है। चिकलथाना परिसर से बहने वाली सुखना नदी के पानी को नदी किनारे बने एक कुएं में पाइप द्वारा ले जाया जाता है। इसी कुएं से पहले एक मेन होल बनाया गया है। इसी की सफाई के लिए सोमवार शाम 7 मजदूर(रामकिशन माने, जनार्दन साबले, दिनेश दराखे, उमेश, प्रकाश बाघमारे, रामेश्वर दांभ और एकनाथ कवडे) मेन होल में उतरे। इसी दौरान जहरीली गैस की चपेट में आकर सातों बेहोश हो गए।

इसके बाद एक स्थानीय व्यक्ति ने उन्हें कुएं में देख पुलिस को इसकी सूचना दी। इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस टीम ने सातों को एक-एक करके कुएं से बाहर निकाला और औरंगाबाद के धूत हॉस्पिटल में भर्ती करवाया। जहां इलाज के दौरान तीन मजदूरों ने दम तोड़ दिया। इस मामले में पुलिस ने आकस्मिक मृत्य का केस दर्ज किया है।