इंदौर: मध्यप्रदेश के इंदौर जिले में 40 वर्षीय किसान ने अपने खेत में पेड़ से कथित तौर पर फांसी लगाकर बृहस्पतिवार को आत्महत्या कर ली। देपालपुर पुलिस थाने के प्रभारी गोपाल परमार ने बताया कि मोहन राजपूत (40) का शव इंदौर से करीब 60 किलोमीटर दूर जलालपुरा गांव में आम के पेड़ से लटका मिला। यह पेड़ राजपूत के ही खेत में है।

उन्होंने कहा कि इस बारे में पुलिस को फिलहाल कुछ भी पता नहीं चल सका है कि दो बच्चों के पिता राजपूत ने कथित तौर पर जान देने का कदम क्यों उठाया? इस बीच, स्थानीय मीडिया के एक तबके में खबरें हैं कि राजपूत उन लोगों के तगादों से परेशान था जिन्होंने उसे कर्ज दे रखा था।

बहरहाल, थाना प्रभारी ने इन खबरों को “सरासर भ्रामक” बताया और कहा कि पुलिस मामले की विस्तृत जांच कर रही है। पोस्टमॉर्टम के बाद किसान के शव को उसके परिवारवालों को सौंप दिया है। मध्यप्रदेश में माहौल चुनावी है लेकिन किसानों की आत्महत्या पर कोई भी बात नहीं कर रह है। देशभर में हज़ारों किसान हर साल कर्ज के कारण खुदकुशी कर लेते हैं। सभी सरकार इस संवेदनशील मुद्दे से भागती नज़र आती है।