yadav-feud

नई दिल्ली : अमर सिंह ने समाजवादी पार्टी के झगड़े को प्री प्लान्ड बताया है. उन्होंने कहा कि यादव परिवार के बीच सोची-समझी साजिश के तहत विवाद पैदा किया गया था. इसके सूत्रधार खुद मुलायम सिंह थे. सच्चाई यह है कि अखिलेश और मुलायम दोनों एक ही हैं और आगे भी एक रहेंगे. दरअसल इस फैमिली ड्रामे में परिवार के सभी लोगों को अलग-अलग रोल दिए गए थे. उसी के अनुसार वे भूमिका निभा रहे थे.

मुलायम सिंह यादव की कमजोरी साइकिल, अखिलेश और उनका परिवार है. उन्होंने एक चैनल को दिए इंटरव्यू में बताया कि मुझे बाद में जाकर ऐसा महसूस हुआ कि इस ड्रामे में मेरा इस्तेमाल हो रहा है. अखिलेश की इमेज सुधारने के लिए यह सब ड्रामा किया गया था. मुलायम को पता था कि अगर चुनाव में गए, तो जीतना मुश्किल होगा. जनता का सिम्पैथी वोट लेने के लिए अखिलेश को लाचार दिखाना जरूरी है.   

चुनाव से काफी पहले ही इस फैमिली ड्रामे की पटकथा लिख दी गई थी. सभी इस ड्रामे के अनुसार ही अपना रोल निभा रहे थे. ड्रामे के अनुसार ऐसा दिखाया गया कि पुत्र अखिलेश ने अपने पिता और चाचा के खिलाफ बगावत कर दी है. सपा के शीर्ष स्तर के नेता भी दोनों खेमों में बंट गए थे. अमर सिंह मुलायम सिंह व शिवपाल के साथ थे. इससे पहले अखिलेश ने अमर सिंह को बाहरी बताया था.  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here