सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव गाजीपुर में ‘सामाजिक न्याय से महापरिवर्तन’ की संयुक्त रैली में पीएम मोदी पर जमकर बरसे. गाजीपुर के आरटीआई मैदान में आयोजित जनसभा में उन्होंने कहा मोदी ऐसे प्रधानमंत्री हैं जो हमारे नहीं हैं. वह देश के एक प्रतिशत लोगों के प्रधानमंत्री हैं.साथ ही अखिलेश ने कहा कि अगर जनता का समर्थन मिला तो हम चौकीदार की चौकी छीन लेंगे.

गाजीपुर में पीएम मोदी को आड़े हाथों लेते हुए अखिलेश ने कहा कि हमारी सरकार ने भर्तियां आसान कर दी थीं. जबकि पहले समय लगता था. सपा सरकार में 10वीं-12वीं पास करके दौड़कर दिखाने वालों को भर्ती हो जाती थी, लेकिन अब ऐसा नहीं है. उन्होंने कहा कि मोदी 2014 में चायवाला बनकर आए थे. चायवाला समझकर लोगों ने उनपर भरोसा कर लिया. हालांकि 5 साल में पता चल गया कि चाय कैसी थी. अब चाय का नशा उतर गया है. क्योंकि चायवाले अब चौकीदार बनकर आ रहे हैं. ऐसे में यह चुनाव चौकीदार की चौकी छीनने का है.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर देश की जनता को धोखा देने का आरोप लगाते हुए यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि मोदी सरकार ने सिर्फ धोखा दिया है. इस दौरान अखिलेश नया भारत बनाने की बात कहते नज़र आये. उन्होंने कहा कि हमें देश को नया प्रधानमंत्री देना होगा. अगर जनता का समर्थन मिला तो हम चौकीदार की चौकी छीन लेंगे. उनका कहना था कि मोदी सरकार ने सिर्फ झूठे सपने दिखाए. अच्छे दिन के नाम पर सिर्फ लोगों को ठगा और किसानों को भरोसा दिलाया कि लागत की दोगुनी कीमत मिलेगी, लेकिन किसी भी किसान को लागत की कीमत दोगुनी नहीं मिली. साथ ही जीएसटी और नोटबंदी के मुद्दे पर भी अखिलेश ने मोदी सरकार को कटघरे में खड़ा करते हुए कहा कि जीएसटी और नोटबंदी ने लोगों से रोजगार छीन लिए.