मुंबई: बृहन्मुंबई महानगरपालिका (BMC) ने मुंबई में सड़कों के किनारे बिकने वाले जूस पर सनसनीखेज खुलासा किया है. बीएमसी  का कहना है कि सड़क किनारे बिकने वाले जूस और अन्य पेय पदार्थ का 81 प्रतिशत हिस्सा पीने लायक नहीं होता है.

जूस और अन्य पेय पदार्थों के बारे में बीएसपी ने यह बयान शहरी निकाय के स्वास्थ्य विभाग ने नींबू पानी, गन्ने का जूस और बर्फ का गोला बेचने वाले विभिन्न स्टालों का पिछले महीने निरीक्षण करने के बाद दिया है. इस निरीक्षण में इन पेय पदार्थों की क्वालिटी बेहद खराब पाई गई.

महानगरपालिका के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बुधवार को बताया, ‘‘विभिन्न स्टॉलों से 968 नमूने लिए गए थे, इनमें से 786 (करीब 81.1 प्रतिशत) पीने के काबिल नहीं थे.’’ उन्होंने कहा कि निकाय ने ऐसे अस्वास्थ्यकर पेय बेचने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने का फैसला किया है.

अधिकारी ने कहा कि बीएससी लगातार ऐसे पेय बेचने वालों की निगरानी कर रहा है और दूषित पेय पदार्थों को नष्ट कर रहा है. हम लोगों के स्वास्थ के साथ कोई समझौता करना नहीं चाहते हैं.