पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा है कि गुरदासपुर लोकसभा सीट पर कांग्रेर्स के प्रदेशाध्यक्ष एवं उम्मीदवार सुनील जाखड़ को भाजपा उम्मीदवार अभिनेता सनी देओल से कोई चुनौती नहीं है क्योंकि सन्नी महज फिल्मी फौजी हैं जिनका इस क्षेत्र में कोई आधार ही नहीं है।

कैप्टन सिंह ने गुरदासपुर से कांग्रेस उम्मीदवार सुनील जाखड़ का नामांकन पत्र भरवाने के बाद आज यहां पत्रकारों से कहा कि वो तो (सनी देओल) एक फिल्मी फौजी है जबकि मैं तो असली फौजी हूं। उन्होंने ऐलान किया कि सनी देओल को हार का सामना करना पड़ेगा तथा वो श्री जाखड़ के लिये कोई चुनौती ही नहीं हैं। उन्होंने कहा कि बढ़ती उम्र के कारण सनी का फिल्मी कैरियर खत्म हो चुका है। सनी यहां आयेंगे और हारने के बाद वो बालीवुड लौट जायेंगे। बेशक भाजपा प्रत्याशी सनी देओल ने ‘बार्डर’ फिल्म में ब्रिग्रेडियर कुलदीप सिंह चांदपुरी का किरदार निभाया लेकिन इससे वो असली फौजी नहीं बन जाते हैं।

कैप्टन सिंह ने उम्मीद जताई कि गुरदासपुर सहित राज्य की सभी 13 सीटें कांग्रेस जीतेगी तथा शिरोमणि अकाली दल के प्रधान सुखबीर बादल तथा उनकी पत्नी हरसिमरत कौर बादल की हार सुनिश्चित बनाने के लिये पूरा जोर लगायेंगे। राज्य के विभिन्न हिस्सों में चुनाव प्रचार के दौर देखने को मिला है कि माहौल पूरी तरह कांग्रेस के पक्ष में है। अभी तक पार्टी के मुकाबले में कोई नहीं ठहरता।

उन्होंने आगे कहा कि कांग्रेस आलाकमान ने इन चुनावों में पार्टी के उम्मीदवारों की जीत की जिम्मेवारी मंत्रियों तथा विधायकों पर डाली है। संबंधित विधानसभा क्षेत्रों के विधायक तथा मंत्री उम्मीदवार की हार या जीत के लिए जिम्मेवार होंगे। जिस मंत्री के इलाके में पार्टी की हार हुई, उसकी कुर्सी गई और जिस विधायक के हलके में कांग्रेस उम्मीदवार हारा उसे अगली बार टिकट नहीं मिलेगी।