भोपाल: मध्य प्रदेश में लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण के तहत रविवार को आठ लोकसभा सीटों के लिये मतदान होगा। इसकी पूरी तैयारी कर ली गई है।मध्य प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी वी एल कांता राव ने शनिवार को संवाददाताओं को बताया, ‘‘प्रदेश में तीसरे चरण के चुनाव में कुल आठ लोकसभा सीटों मुरैना, भिण्ड, ग्वालियर, गुना, सागर, विदिशा, भोपाल और राजगढ़ के लिये आगामी 12 मई को सुबह सात बजे से शाम छह बजे तक मतदान होगा। इसकी पूरी तैयारी कर ली गई है। इसमें एक करोड़ 44 लाख से अधिक मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करके 138 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे।’’ वर्ष 2014 में इनमें से सात सीटों पर भाजपा ने कब्जा किया था, जबकि गुना सीट कांग्रेस के खाते में गई थी।

उन्होंने कहा कि इन आठ सीटों पर 14 महिलाओं सहित कुल 138 प्रत्याशी मैदान में हैं, जिनमें से मुरैना में 25, भिण्ड में 18, ग्वालियर में 18, गुना में 13, सागर में 10, विदिशा में 13, भोपाल में 30 और राजगढ़ में 11 उम्मीदवार शामिल हैं।राव ने बताया कि तीसरे चरण में प्रदेश में 8 संसदीय निर्वाचन क्षेत्र में कुल 18,141 मतदान केन्द्र एवं कुल एक करोड़ 44 लाख से अधिक मतदाता हैं। इनमें 32,909 सेवा मतदाता अपने मत का प्रयोग पोस्टल बैलेट से करेंगे।

उन्होंने कहा कि इस चरण में मध्य प्रदेश में केन्द्रीय सशस्त्र बल की 85 कंपनियां, राज्य सशस्त्र पुलिस बल की 30 कंपनियां तथा राज्य पुलिस के अधिकारी/कर्मचारी सहित कुल 45,053 सुरक्षाकर्मियों को लगाया गया है।सभी पार्टियों ने चुनाव प्रचार में अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। हालांकि, इन सीटों पर मुख्य मुकाबला भाजपा एवं कांग्रेस के बीच ही माना जा रहा है। यह मध्य प्रदेश में मतदान का तीसरा और देश में मतदान का छठा चरण है।

इसमें केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर (मुरैना से भाजपा प्रत्याशी), कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया (गुना) एवं कांग्रेस के दिग्गज नेता एवं मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह (भोपाल) जैसे वरिष्ठ नेताओं की प्रतिष्ठा दांव पर है। इनके अलावा, भोपाल सीट से दिग्विजय के खिलाफ लड़ रहीं मालेगांव बम विस्फोटों की आरोपी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर भी मैदान में हैं।

इस चरण के चुनाव प्रचार में भोपाल लोकसभा सीट मुख्य रूप से चर्चा का विषय रही। इस सीट पर कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह का मुख्य मुकाबला भाजपा की प्रत्याशी एवं हिन्दूवादी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर से है। प्रज्ञा वर्ष 2008 में हुए मालेगांव विस्फोट मामले में आरोपी हैं और फिलहाल जमानत पर हैं।

भाजपा का गढ़ कही जाने वाली इस सीट से दिग्विजय को जिताने के लिए कम्प्यूटर बाबा यहां धूनी जलाकर सैकड़ों साधु-संतों के साथ हठ योग पर बैठे थे। वह न केवल उनका प्रचार कर रहे हैं, बल्कि तंत्र-मंत्र का सहारा भी ले रहे हैं। कम्प्यूटर बाबा ने साधु-संतों के साथ उनके लिए रोड शो भी किया, जो पूरी तरह से भगवा रंग में रंगा नजर आया।

इसके अलावा, इस चरण के चुनाव के लिये प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सागर एवं ग्वालियर सीटों के भाजपा प्रत्याशियों के लिए चुनावी सभाएं कर वोट मांगे। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने भी अपनी पार्टी के उम्मीदवारों के लिए राजगढ़ एवं भोपाल में चुनाव प्रचार किया। वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपनी पार्टी के सागर, ग्वालियर, भिण्ड एवं मुरैना सीटों के प्रत्याशियों के लिए चुनावी सभाएं की।

बसपा प्रमुख मायावती ने अपनी पाटी के मुरैना लोकसभा क्षेत्र से उम्मीदवार और हरियाणा सरकार के पूर्व मंत्री करतार सिंह भड़ाना के लिए चुनावी रैली की।वहीं, उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमल नाथ, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान तथा नितिन गडकरी एवं राजनाथ सिंह सहित कई अन्य केन्द्रीय मंत्री भी चुनाव प्रचार में सक्रिय रहे।

मध्य प्रदेश में कुल 29 लोकसभा सीटें है। छह सीटों के लिए मतदान 29 अप्रैल को और सात सीटों के लिए मतदान 6 मई को हो गया है। बाकी 16 सीटों के लिए दो अन्य चरणों 12 मई एवं 19 मई को मतदान होना है। इनकी मतगणना 23 मई को होगी।