हाथरस की हैवानियत के बाद बलरामपुर में दरिंदगी

छात्रा के साथ सामूहिक बलात्कार,हॉस्पिटल पहुंचने से पहले मौत

378

बलरामपुर:- उत्तर प्रदेश के हाथरस में युवती की चिता अभी ठंडी भी नहीं हुई थी कि बलरामपुर में फिर एक और हृदयविदारक घटना सामने आई है। छात्रा के साथ गैंगरेप के बाद दरिदों ने उसकी कमर और पैर तोड़ दिए। गंभीर हालत में अस्पताल पहुंचने से पहले ही उसकी मौत हो गई।

हाथरस में युवती के साथ दरिंदगी और मौत के बाद पुलिस की अमानवीयता से उबल रहे देशवासियों के लिए एक और निर्ममता की ख़बर सामने आई है। मंगलवार की सुबह क़रीब 10 बजे 22 वर्षीय छात्रा अपने घर से कॉलेज में एडमिशन के लिए गई थी। पीड़िता की मां के मुताबिक, तभी कुछ लड़कों ने उसका अपहरण कर लिया और उसके साथ सामूहिक बलात्कार की घटना को अंजाम दिया।

शाम तक न लौटने पर परिजनों ने उसे फोन करना शुरू किया तो उसका फोन बंद आ रहा था। लड़की को एक रिक्शा वाला नाबालिग बच्चे के साथ बेहोशी की हालत में तक़रीबन 7 बजे लेकर आता है। लड़की की हालत बेहद खराब थी और वो कुछ भी नहीं बोल पा रही थी। उसके हाथ पर ग्लूकोज चढ़ाने वाला वीगो लगा हुआ था।

मृतका की मां का आरोप है कि उसकी लड़की एक डिग्री कॉलेज में एडमिशन कराने गई थी, तभी उसका अपहरण कर उसे इंजेक्शन लगा कर बेहोश किया गया और फिर गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया गया है। जिन लोगों ने उसके साथ गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया, उन्होंने न केवल उसकी कमर तोड़ी बल्कि उसकी टांग भी तोड़ दी। इससे लड़की न तो खड़ी हो पा रही थी न ही आसानी से बोल पा रही थी। उसकी ज़ुबान से बड़ी मुश्किल से शब्द निकल रहे थे। उसने बस इतना कहा कि उसके पेट मे तेज जलन हो रही है और वह मर जाएगी।

Adv from Sponsors