उत्तर प्रदेश में सोनभद्र जिले के उम्भा गांव में भूमि विवाद को लेकर 17 जुलाई को हुए हत्याकांड के मुख्य आरोपी यज्ञदत्त के रिश्तेदार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस अधीक्षक सलमान ताज पाटील ने शनिवार को बताया कि यज्ञदत्त के निकट के रिश्तेदार कोमल को गिरफ्तार किया गया है। पाटील ने बताया कि कोमल को वाराणसी में गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है। वह भदोही रेलवे स्टेशन का अधीक्षक है। उन्होंने कहा कि पीड़ितों ने बताया था कि हत्याकांड के समय कोमल घटनास्थल पर मौजूद था और मुख्य आरोपी की तरफ से उसने भी गोली चलायी थी।

वहीं उत्तर प्रदेश के सोनभद्र में हुए नरसंहार में मारे गये लोगों के परिजनों ने शनिवार को मिर्जापुर के चिनार में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी से मुलाकात की। नरसंहार के पीड़ित परिवारों से मिलने पर अड़ी प्रियंका से मिलकर मृतकों के परिजनों के सब्र का बांध टूट पड़ा। महिलाएं बिलख-बिलखकर रोने लगीं।

इस बीच, कांग्रेस ने आरोप लगाया कि मृतकों के परिजन सोनभद्र से मिर्जापुर आये हैं प्रियंका से मिलने, लेकिन प्रशासन उन्हें कांग्रेस महासचिव से मिलने से रोक रहा है। कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमंडल ने लखनऊ में उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाइक से मुलाकात कर इस मामले की शिकायत की। उधर, जनजातीय मामलों के केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने सोनभद्र की घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया। उन्होंने उम्मीद जतायी कि उत्तर प्रदेश की सरकार इस मामले में उचित कार्रवाई करेगी। मामले की निष्पक्ष जांच करवाकर दोषियों को सजा दिलवायेगी।