प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बिहार में चमकी बुखार से हुई बच्चों की मौत को शर्मनाक करार दिया है. आज राज्यसभा में उन्होंने राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव के दौरान कहा कि देश में बच्चों की बुखार से मौत हमारी सबसे बड़ी असफलता है.हमें मिलकर इन विफलताओं से निपटने के हल खोजने होंगे. गौरतलब है कि पीएम मोदी का बयान ऐसे समय में आया है जब बिहार में चमकी बुखार से 150 से ज्यादा बच्चों की मौत हो चुकी है.

दरअसल यह पहला मौका है जब चमकी बुखार को लेकर पीएम नरेन्द्र मोदी का कोई बयान सामने आया है. ऐसे में लोग उनके बयान की टाइमिंग को लेकर भी सवाल उठा रहे हैं. कहा जा रहा है कि पीएम का बयान ऐसे समय में आया जब बिहार में सत्तारूढ़ जेडी(यू) और बीजेपी के रिश्ते ठीक नहीं चल रहे हैं. बीजेपी के कई नेता भी चमकी बुखार और कानून-व्यवस्था को लेकर नीतीश सरकार पर निशाना साध चुके हैं. आज राज्यसभा में पीएम ने अपने भाषण में बिहार में इंसेफ्लाइटिस से हुई मौतों का जिक्र किया. उन्होंने कहा कि ह हम सभी के लिए ‘दुख और शर्म’ की बात है. आज भी बच्चों का बुखार से मरना देश की 70 साल की विफलताओं में से एक है. हमें मिलकर इन विफलताओं से निपटने के हल खोजने होंगे.

राज्य सभा में अपने संबोधन में पीएम ने कहा कि हमें इस मसले को गंभीरता से लेना होगा. मैं लगातार राज्य सरकार के संपर्क में हूं और मुझे पूरा यकीन है कि जल्द ही हम इस संकट से बाहर निकलेंगे.इस दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने केंद्र सरकार की महात्वाकांक्षी स्वास्थ्य योजना का जिक्र करते हुए कहा कि यह समय ‘आयुष्मान भारत’को और मजबूत बनाने का है.हम चाहते हैं कि हमारे देश के गरीबों को बढ़िया और उच्च गुणवत्ता का इलाज व स्वास्थ्य संबंधी सेवाएं मिलें.

वहीं दूसरी तरफ पीएम मोदी ने झारखंड में हुई मॉब लिंचिंग पर कहा कि ‘मॉब लिंचिंग में युवक की मौत बेहद दुःखदायी है, लेकिन इसके लिए समूचे झारखंड को कठघरे में खड़ा करना सही नहीं है . उन्होंने कहा कि ‘झारखंड में लिंचिंग की घटना से मुझे दुख हुआ. इससे दूसरों को भी दुख पहुंचा होगा. लेकिन कुछ लोगों ने राज्यसभा में झारखंड को लिंचिंग का हब कहा था. क्या यह सही है? वे एक प्रदेश का अपमान क्यों कर रहे हैं. एक मॉब लिंचिंग की घटना के बाद पूरे झारखंड को बदनाम करने का अधिकार हमारे पास नहीं है. इसके साथ ही उनका कहना था कि दोषियों को कड़ी सजा मिलनी चाहिए.

One reply on “ ‘चमकी बुखार’ पर पीएम ने तोड़ी चुप्पी, बच्चों की मौत को बताया शर्मनाक”

Comments are closed.