विशाखापट्टनम में भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच  खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच में सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए दोहरा शतक जड़ दिया. उन्होंने 115वें ओवर की पहली गेंद पर करियर का पहला दोहरा शतक पूरा किया.उन्होंने आउट होने से पहले 215 रन बनाए.  इसके साथ ही उन्होंने वीरेंद्र सहवाग के रिकार्ड की बराबरी भी कर ली है. साल 2009 में टीम इंडिया के विस्फोटक ओपनर वीरेंद्र सहवाग ने श्रीलंका के खिलाफ मुंबई के ब्रेबोर्न स्टेडियम पर 293 रन बनाए थे.

आज दूसरे दिन का खेल शुरु होने से पहले मयंक अग्रवाल शतक से मात्र 16 रन दूर थे. उन्होंने शुरूआती ओवरों में धैर्य बनाए रखा और  केशव महाराज की गेंद पर सिंगल लेकर टेस्ट में उन्होंने अपना पहला शतक पूरा किया. दोहरा शतक लगाने के साथ ही मंयक अग्रवाल चौथे ऐसे भारतीय बल्लेबाज बने, जिन्होंने अपने पहले टेस्ट शतक को दोहरे शतक में तब्दील किया. मंयक से पहले दिग्गज बल्लेबाज दिलिप सरदेसाई ने न्यूजीलैंड के खिलाफ साल 1965 में, विनोद कांबली ने इंग्लैंड के खिलाफ 1993 में और करुण नायर ने भी इंग्लैंड के खिलाफ 2016 में  ये कारनामा किया है.

मयंक अग्रवाल की आतिशी बल्लेबाजी की बदौलत टीम इंडिया ने सात विकेट खोकर 502 रन बनाए और पारी घोषित कर दी. जिसके बाद बल्लेबाजी करने उतरी अफ़्रीकी टीम ने 39 रनों पर अपने तीन विकेट गंवा दिए. आर अश्विन ने दो और रविंद्र जडेजा ने एक विकेट लिया. दक्षिण अफ्रीका अभी भी भारत से 463 रन पीछे है, जबकि उनके महज सात विकेट बचे हैं.

आपको बता दें कि मयंक अग्रवाल ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ साल 2018 में टेस्ट डेब्यू  किया था औरबेहतरीन प्रदर्शन करते हुए दो मैचों में 65 की औसत से 195 रन बनाए थे. इसके अलावा  इंग्लैंड में  खेली गई त्रिकोणीय सीरीज में मयंक ने इंडिया ए के लिए सबसे ज्यादा रन बनाए. उन्होंने 71.75 की औसत से चार मैचों में 287 रन स्कोर किये. इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 105.90 रहा.  इसके बाद  उन्हें  वेस्टइंडीज के खिलाफ  दो टेस्ट मैचों में भी खेलने का मौका मिला जिनमें उन्होंने किंग्सटन टेस्ट में एक अर्धशतक समेत 59 रनों की पारी खेली तो वहीं  दूसरे टेस्ट में उनके बल्ले से पांच और 16 रन ही निकल सके.