राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल बुधवार को शोपियां पहुंचे और वहां आम लोगों के साथ साथ खाना भी खाया. एनएसए जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद शोपियां दौरे पर हैं. उन्होंने अलग अलग इलाकों में सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया. शोपियां में आम लोगों के साथ भोजन करने के बाद डोभाल वहां के पुलिस अधिकारियों से मिले. उनके साथ डीजीपी दिलबाग सिंह भी मौजूद थे.

पुलिस अधिकारियों से मुलाकात के बाद अजीत डोभाल ने सुरक्षा बल के जवानों से भी मुलाकात की और सुरक्षा का हाल जाना. जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद अजीत डोभाल की ऐसी यह पहली यात्रा है. डोभाल की यात्रा से पहले मंगलवार को राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने भी सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया था और संबंधित जिलों के पुलिस आयुक्तों को निर्देश दिया कि अपने अपने क्षेत्रों में लोगों की पूरी मदद की जाए.

इससे पहले सोमवार को दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आवास पर लगभग एक घंटे तक सुरक्षा मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति (सीसीएस) की बैठक चली थी जिसमें जम्मू कश्मीर के अलग अलग मुद्दों पर चर्चा की गई. उच्चस्तरीय बैठक में प्रधानमंत्री मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल भी मौजूद थे.

सीसीएस बैठक लगभग 40 मिनट चली और इस बैठक में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, विदेश मंत्री एस. जयशंकर और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भी मौजूद रहे.

गौरतलब है कि शोपियां जिला आतंकवाद से सबसे ज्यादा प्रभावित रहा है और आए दिन कोई न कोई घटना सामने आती रही है. वुरहान वानी से जुड़ी घटना यही हुई थी. वानी की मौत के बाद इस जिले में बड़े स्तर पर विरोध प्रदर्शन भड़के थे. हालांकि अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद यहां शांति बनी हुई है और लोगों में सौहार्द्र देखा जा रहा है.