प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा घर लौटना मानव स्वभाव है इसके चलते मजदूर अपने गृह राज्य को वापस जा रहे हैं. लॉक डाउन के पहले शायद यदि यह बात प्रधानमंत्री के समझ में आती तो शायद इस देश का मजदूर इतनी प्रताड़ना ना झेलता. जब प्रधानमंत्री को यह बात समझ में आ गई तब तक बहुत देर हो चुकी है. आज मजदूरों को लोग बुला रहे हैं. क्या वह वापस जाएंगे? इस पर एक विश्लेषण.