marriage-couple-blue-picप्यार को कैद नहीं किया जा सकता. सउदी अरब में एक घटना से यह  बात सिद्घ होती दिखाई दी. महिलाओं को कम अधिकार देने वाले  सउदी अरब में एक युवती यमन में रह रहे अपने प्रेमी से निकाह करने के चक्कर में जेल पहुंच गई और अब उसने अदालत से मदद की गुहार लगाई है. 22 साल की हुडा अल निरान ने देश के दकियानूसी कानून और उसके अंजाम की परवाह किए बगैर देश से फरार होकर सना में शरण ली है. वह अपने प्रेमी अराफात मोहम्मद ताहर से निकाह करने के लिए अदालत की मदद ले रही है. दोनों देशों के लोग इस युवती के साहस को देखकर हैरान हैं. हुडा इस वक्त जेल में है और उस पर देश में अवैध तरीके से घुसने पर मामला चल रहा है. दोषी पाए जाने पर हुडा को सउदी वापस भेजा जा सकता है. हुडा ने यमन की अदालत में गुहार लगाई है कि उसे वहां रहने दिया जाए और ताहर से निकाह की अनुमति भी दी जाए. अदालत में उसने सउदी अरब दूतावास की ओर से मुहैया कराए गए वकील की मदद लेने से भी इन्कार कर दिया. उसे डर है कि उस पर सउदी वापस लौटने का दबाव डाला जा सकता है. उधर, मानवाधिकार संगठन ह्यूमन राइट्स वाच भी इस मामले पर लगातार निगाह रखे हुए है. संगठन ने 19 नवंबर को यमन से अपील की थी कि हुडा को वापस सउदी नहीं भेजा जाए, क्योंकि वहां उसकी जान को खतरा हो सकता है. गौरतलब है कि सउदी अरब और यमन दोनों पड़ोसी मुल्क हैं, जहां महिलाओं के पास कुछ ही अधिकार हैं और वहां महिलाएं अपने अधिकारों के लिए लड़ाई लड़ रही हैं.
 

जब कब्र से निकला ज़िंदा इंसान
PICT0017कहा जाता है कि आत्मा कभी मरती नहीं है. मरता तो सिर्फ शरीर है. जब कोई आत्मा इस संसार में अपना जिस्म छोड़ती है, तो उसे मरा हुआ ही समझा जाता है, क्योंकि जिस तरह जीवन एक सच्चाई है, उसी तरह मौत भी एक अटल सत्य है. इस सत्य को प्रत्येक मनुष्य मानता है. ब्राजील में एक औरत अपने किसी रिश्तेदार की कब्र पर फूल चढ़ाने गई तो उसने एक कब्र में अजीबोगरीब हलचलें महसूस किया. उसे ये महसूस हुआ कि किसी कब्र से धीमे-धीमे कोई आवाज आ रही है. कोई बहुत बैचेन है और बाहर आने की कोशिश कर रहा है. इतना ही नहीं, जब उसने देखा कि कब्र में से एक हाथ बाहर आ रहा है, तो वह काफी डर गई और वहां से भाग गई, लेकिन फिर उसे लगा कि हो सकता है कि किसी को उसकी मदद की जरूरत हो. जब वो हिम्मत करके वापस वहां गई, तब उसने देखा कि सच में उस कब्र में से किसी आदमी की आवाज आ रही है. यह सब देखने के बाद उसने कब्रिस्तान के कार्यालय में जाकर इसके बारे में बताया. पहले तो वहां के लोगों को विश्‍वास नहीं हो रहा था, लेकिन उस औरत के काफी आग्रह पर कर्मचारियों ने जब वहां जा कर देखा, तो सच में एक आदमी कब्र से बाहर हाथ निकाल कर मदद मांग रहा था. वहां मौजूद लोगों ने किसी तरह उसे बाहर निकाला. तब पता चला कि वह कोई मृत व्यक्ति नहीं, बल्कि जीवित व्यक्ति है. उसे वहां से निकालकर अस्पताल में भर्ती करवाया गया. होश आने पर उसने सारी बात बताई, तो सभी हैरान रह गए. उसने बताया कि कुछ मनचले लड़कों ने उसके सामान को छीनने की कोशिश की थी. जब वह इसका विरोध करने लगा, तब उन लोगों ने उसके सिर पर वार किया और वह बेहोश हो गया. वे लोग उसे मरा हुआ समझ कर टूटी-फूटी कब्र में दफना गए होंगे, क्योंकि आगे की कहानी उस व्यक्ति को याद नहीं थी. जब उसे होश आया, तो उसने खुद को कब्र में पाया और फिर वहां से निकलने के लिए मदद मांगने लगा. सौभाग्यवश उसी वक्त एक औरत की नजर उस पर पड़ी और एक मरा हुआ इंसान जिंदा हो गया
 
 
वापस मिली 50 साल पहले गायब हुई बाइक
001अमेरिका में एक व्यक्ति की खुशी का उस समय  कोई ठिकाना नहीं रहा, जब 50 साल पहले चोरी हुई उसकी बाइक उसे वापस मिल गई. अब इस बाइक की कीमत बाजार में तीस गुना बढ़ गई है. यह मामला सामने आया है अमेरिका के मध्य पश्‍चिमी प्रांत नेब्रास्का में, जहां ओमाहा शहर में रहने वाले व्यक्ति डोनाल्ड डीवाल्ट को अपनी 50 साल पहले चोरी हुई बाइक वापस मिल गई. कैलिफोर्निया प्रशासन ने उसकी बाइक को लॉस एंजलिस के बंदरगाह से बरामद किया. प्रशासन ने बताया कि बाइक को जापान भेजने की तैयारी जा रही थी, लेकिन अधिकारियों ने समय रहते पता लगा लिया. इस बाइक की चोरी की रिपोर्ट फरवरी 1967 में दर्ज की गई थी. 1967 में इस बाइक की कीमत 300 डॉलर थी, जो अब बढ़कर नौ हजार डॉलर हो चुकी है. डीवाल्ट के पास इसके अलावा हार्ले डेविडसन और कावासाकी की बाइक भी हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here