उत्तर प्रदेश में बच्चा चोरी के अफवाह पर होने वाली हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही. ताजा मामला फतेहपुर जिले में खखरेरू थाना क्षेत्र के कोट गांव का है. जहां सोमवार को ग्रामीणों ने बच्चा चोर होने के शक में एक विक्षिप्त व्यक्ति की पिटाई कर दी.

नगर पुलिस उपाधीक्षक (सीओ) कपिल देव मिश्रा ने बताया कि ‘खखरेरू थाना क्षेत्र के कोट गांव में सोमवार दोपहर करीब 53 साल का एक विक्षिप्त व्यक्ति भटक कर पहुंच गया था. साधु का वेष धारण किये इस व्यक्ति को महिलाओं ने बच्चा चोर होने के शक में घेर लिया था. बाद में कुछ ग्रामीणों ने उसकी पिटाई कर दी.

उन्होंने बताया कि सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस उसे अपने साथ थाना ले गयी. मिश्रा ने बताया कि वह विक्षिप्त है. अपना नाम-पता बता पाने में असमर्थ है. बच्चा चोर होने जैसी कोई बात नहीं है.

इसके पहले बांदा के अतर्रा कस्बे में बच्चा चोर समझ कर भीड़ ने चार मजदूरों को पिटाई कर दी थी और बाद में पुलिस हवाले कर दिया. पुलिस ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्र से कस्बे में मजदूरी करने आये चार मजदूर काम नहीं मिलने पर लोहिया नहर पुल के पास बैठे हुए थे.

पुलिस के मुताबिक कुछ लोगों ने बच्चा चोर की अफवाह फैला दी, जिससे भीड़ इकट्ठा हो गई और उनकी पिटाई कर पुलिस को सौंप दिया था. करीब तीन घण्टे की पूछताछ में मजदूरों से हकीकत का पता चली तो उन्हें छोड़ दिया गया है.

उत्तर प्रदेश में बच्चा चोरी को लेकर फैल रही अफवाहों के बीच बलिया में लोगों ने एक महिला की पिटाई कर दी. बलिया से मिली खबर के मुताबिक शहर कोतवाली क्षेत्र के बाहरी इलाके में भीख मांगने वाली रीना नामक महिला को मोहल्ले के लोगों ने बच्चा चोर समझकर घेर लिया और उसकी पिटाई शुरू कर दी.